हिमाचल में बादल फटा: पंचायतों को भारी नुकसान, आकाशीय बिजली की चपेट में आईं 300 भेड़ें

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल में बादल फटा: पंचायतों को भारी नुकसान, आकाशीय बिजली की चपेट में आईं 300 भेड़ें

शिमला। हिमाचल प्रदेश में प्री मानसून का आगम हो चुका है। इसी के साथ ही सूबे में इंद्र देव ने अपना कठोर रूप धार लिया है और झमा झम बारिश करवा रहे हैं। प्रदेश में बीते दो दिन में कई जिलों में भारी बारिश हुई है। आलम यह है कि इन इलाकों में लोगों को परेशानी से दो-चार होना पड़ रहा है। इसी कड़ी में सामने आ रही ताजा अपडेट के अनुसार प्रदेश के चंबा जिले से बादल फटने की खबर सामने आई है। 

यह भी पढ़ें: वीडियो वायरल: बिजली महादेव से होकर भुंतर के जिया में गिरी आसमानी बिजली, दहक उठा जंगल

वहीं ऊना में ओले गिरे। कांगड़ा में बैजनाथ में बिजली गिरने से 250-300 भेड़ों की मौत की सूचना है। कुल्लू में बिजली महादेव मंदिर के पास जिया गांव के जंगल में बिजली गिरी और आग लग गई। हालांकि, बाद में बारिश से आग बुझ गई। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: नदी का ऐसा तांडव कि चिता को ठीक से आग भी नहीं हुई नसीब, उफान में बहने लगी देह

चंबा में बादल फटा- जिले के जनजातीय क्षेत्र भरमौर की तीन पंचायतों गैहरा, पियुंरा व लेच में खूब कहर बरवाया है। पंचायतों के ऊपरी क्षेत्र में बादल फटने से दो घरों को नुकसान पहुंचा है। बादल फटने की  वजह से दो नालों का जलस्तर बढ़ गया और मलबा लोगों के घरों में घुस गया। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल में आ धमका प्री-मॉनसून: बारिश शुरू- जानें अभी कब तक बरसेंगे इंद्र देव

खेतों में मलबा और पानी घुसने से मक्की की फसल बर्बाद हो गई है। गांव के पेयजल के सोर्स मलबे की वजह से प्रभावित हुए हैं और सेब के बगीचों को भी नुकसान हुआ है। बादल फटने की घटना से कितना नुकसान हुआ है, इसकी रिपोर्ट बनाई जा रही है।

अभी 16 जून तक बिगड़ा ही रहेगा मौसम का मिजाज 

मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने शुक्रवार से 16 जून तक पूरे प्रदेश में बारिश का पूर्वानुमान जताया है। 12 और 13 जून को ऑरेंज अलर्ट के चलते प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में भारी बारिश और अंधड़ चलेगी। शुक्रवार को भी प्रदेश में बारिश और अंधड़ का येलो अलर्ट है। शुक्रवार को प्रदेश में प्री-मॉनसून की फुहारें पड़ेंगी।

Post a Comment

0 Comments