हिमाचल बार्डर तक आ पहुंचा कोरोना का डेल्टा वैरिएंट, स्वास्थ्य विभाग के खड़े हुए कान

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल बार्डर तक आ पहुंचा कोरोना का डेल्टा वैरिएंट, स्वास्थ्य विभाग के खड़े हुए कान


ऊनाः
हिमाचल प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर का खूब कहर बरपा है। ऐसे में प्रदेश के ऊना जिले से सटे राज्य पंजाब में कोरोना के डेल्टा वैरिएंट प्लस का मिलना कुछ अच्छे संकेत नहीं देता। वहीं, अभी अभी सामने आ रही ताजा अपडेट के अनुसार आज डेल्टा वैरिएंट प्लस से होने वाली पहली मौत देश के महाराष्ट्र में दर्ज की गई है। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: वर्षा शालिका में पड़ा मिला 55 वर्षीय, जेब में रखे नोट में लिखा था- मैं जसपाल, मैं ही जिम्मेदार

गौरतलब है कि पिछले कुछ समय में हिमाचल प्रदेश के भीतर कोरोना संक्रमण के मामलों में काफी गिरावट देखने को मिली है। जिस वजह से प्रदेश सरकार ने लोगों को काफी रियायतें बरती हैं। जिसके तहत राज्य में परिवहन सेवा सुचारू रूप से शुरू कर दी गई है, इतना ही नहीं राज्य सरकार द्वारा पर्यटकों को भी काफी रियायत दी जा रही है। पहले राज्य में प्रवेश करने के लिए पर्यटकों को आरटी-पीसीआर की रिपोर्ट लाना अनिवार्य था लेकिन अब पर्यटक बिना रिपोर्ट के ही प्रदेश में एंट्री कर सकते हैं। 

ऊना से डेल्टा प्लस की जांच को भेजे जाएंगे सैंपल

वहीं, अब डेल्टा वैरिएंट के आने से ये सवाल उत्पन्न होता है कि क्या प्रदेश में दी जा रही रियायतें सही हैं या नहीं। कहीं, इसका खामियाजा फिर से प्रदेश को भुगतना तो नहीं पड़ेगा। वहीं, पड़ोसी राज्य में डेल्टा वैरिएंट मिलने के बाद अब स्वास्थय विभाग अलर्ट हो गया है। इसी कड़ी में विभाग ने जिला ऊना से भी डेल्टा प्लस की जांच के लिए कुछ सैंपल लेने का निर्णय लिया है। इस मामले में सीएमओ ऊना डॉ रमन शर्मा ने लोगों से कोविड नियमों का पालन करते रहने की अपील की है। 

यह भी पढ़ें: हिमाचलः गलत दिशा-तेज रफ़्तार, पंजाब के ड्राइवर ने टक्कर मारकर ले ली जान

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग नए वैरिएंट को लेकर पूरी तरह सतर्क है। इसीलिए स्वास्थ्य विभाग ने जिले में सामने आये कोरोना के नए मामलों में से ही कुछ सैंपल जीनोम सिक्वेंसिंग के लिए भेजने का निर्णय लिया है। कोरोना के नए वैरिएंट के मिलने पर सीएमओ ऊना डॉ। रमन शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि कोविड का नया वैरिएंट डेल्टा प्लस चिंता का विषय है और इसे लेकर विभाग पूरी तरह से सतर्क है। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: डूबते हुए लाडले बेटे को बचाने के लिए खड्ड में उतरी मां; नहीं बची दोनों की जिंदगी

उन्होंने बताया कि विभाग द्वारा कुछ सैंपल को जांच के लिए शिमला भेजा जायेगा। जहां से यह सैंपल जांच के लिए प्रयोगशाला में भेजे जायेंगे। सीएमओ ऊना ने कहा कि कोविड वैक्सीन ले चुके लोग भी सावधानी जरूर अपनाएँ, क्योंकि जरूरी नहीं की इस नए वैरिएंट में भी वैक्सीन का लाभ मिलेगा। सीएमओ ऊना ने कहा कि बेशक सरकार द्वारा कोरोना कर्फ्यू में रियायतें दे दी है, लेकिन आम लोगों को मास्क, सामाजिक दूरी के साथ साथ हाथों को धोना और सैनेटाइज करना जैसे नियमों का पालन करते रहना चाहिए।

Post a Comment

0 Comments