हिमाचल: गौवंश को वाहन में जबरदस्ती ठूंस ले जा रहे थे, कुछ की गई जान; सड़क किनारे फेंक भागे

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल: गौवंश को वाहन में जबरदस्ती ठूंस ले जा रहे थे, कुछ की गई जान; सड़क किनारे फेंक भागे

ऊना: हिमाचल में गौवंश तस्करी के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं। ताजा मामला ऊना जिले का है। जहां गगरेट-भरवाई सड़क मार्ग पर शिवबाड़ी के समीप चार गौवंश मृत अवस्था में मिले हैं। स्थानीय लोगों का कहना है कि तस्करी कर इन्हें गाड़ी से ले जाया जा रहा था। गाड़ी में और भी गौवंश थीं।

अंब में भी मिली सड़क किनारे मृत गौवंश:

बता दें कि शिवबाड़ी के समीप शहीद भगत सिंह क्लब अंबोटा के सदस्य मनीष ठाकुर को रविवार सुबह सूचना मिली कि सड़क पर तीन गाय व एक बछड़ा मरे पड़े है। मौके पर पहुंच मनीष ठाकुर ने इसकी सूचना पुलिस को दी। देखते ही देखते मौके पर स्थानीय लोग एकत्रित होने शुरू हो गए।

यह भी पढ़ें: हिमाचल: 'फादर्स डे' के दिन बेटे ने 83 साल के बाप को लात-मुक्कों और डंडे से पीटा, बहू ने बचाया

पुलिस ने मौके पर पहुंच कर मामले की जांच की तो पाया कि काफी क्रूरता के साथ गौवंश को किसी वाहन में भरकर ले जाया जा रहा था। गलत तरीके से लादे जाने के कारण कुछ की रास्तों में मौत हो गई और तस्कर इन्हें रास्ते में फेंक कर आगे बढ़ गए। एक गौवंश की टांग भी कटी हुई है।

सीसीटीवी कैमरों की फुटेज को खंगाल रही पुलिस:

दूसरी तरफ पुलिस थाना अंब के तहत सिद्ध चलेहड़ के पास भी एक गाय मृत अवस्था में मिली है। दोनों मामलों को जोड़कर देखा जा रहा है। इस मामले को लेकर स्थानीय लोगों में भारी रोष व्यापत है। हालांकि, पुलिस घटनास्थल के आस-पास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज को खंगाल रही है। अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है।

यह भी पढ़ें: हिमाचल में ऐसी मिलावट: 'खोला अचार-निकली चुहिया' दो दिन से वही खा रहा था परिवार

पशुपालन विभाग के डॉ. राकेश कुमार द्वारा गौवंश का पोस्टमार्टम किया। जिसके बाद करने के बाद पुलिस की मौजूदगी में शहीद भगत सिंह क्लब के सदस्यों ने उक्त गौवंश को अंतिम संस्कार किया। विभिन्न हिंदू संगठनों ने इस मामले में सख्त कार्रवाई करने व आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग की है।

Post a Comment

0 Comments