हिमाचल: BJP नेता ने दिया पद से इस्तीफ़ा; जुब्बल-कोटखाई उपचुनाव के लिए मंत्री को बनाया प्रभारी

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल: BJP नेता ने दिया पद से इस्तीफ़ा; जुब्बल-कोटखाई उपचुनाव के लिए मंत्री को बनाया प्रभारी


शिमला/हमीरपुर।
हिमाचल प्रदेश में सत्तासीन दल भारतीय जनता पार्टी से जुडी दो बड़ी ख़बरें सामने आ रही हैं। एक तरफ जहां बीजेपी ने हाल ही में खाली हुई जुब्बल कोटखाई विधानसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव के लिए प्रभारी नियुत्क कर दिया है। वहीं, दूसरी तरफ हमीरपुर जिले से एक बीजेपी नेता ने अपने पद से इस्तीफ़ा देकर पार्टी के भीतर आतंरिक राजनीति होने का आरोप जड़ा है। तो आइये एक एक कर जानते हैं दोनों ही मामलों के बारे में:- 

जुब्बल-कोटखाई विधानसभा उपचुनाव के लिए सुरेश भारद्वाज प्रभारी नियुक्त

प्रदेश के शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज को जुब्बल कोटखाई विधानसभा उपचुनाव के लिए प्रभारी नियुक्त किया गया है। भाजपा के मुख्य प्रवक्ता रणधीर शर्मा ने पत्रकार वार्ता में यह जानकारी दी। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल में बारिश का दौर जारी: 6 जिलों पर अभी और बरसेंगे इंद्र देव- चार दिनों का येलो अलर्ट

उन्होंने कहा कि भाजपा कोर ग्रुप की बैठक में यह फैसला लिया गया है। स्वास्थ्य मंत्री राजीव सैजल और ऊर्जा मंत्री सुखराम चौधरी सह प्रभारी बनाए गए हैं। डॉ राजीव बिंदल को समन्वयक की जिम्मेदारी सौंपी गई है। 

भाजपा विधि विभाग के जिला संयोजक ने पद से दिया इस्तीफा, कांग्रेस में शामिल

हमीरपुर भाजपा विधि विभाग के जिला संयोजक नरेश जसवाल ने पद से इस्तीफा दे दिया है। नरेश जसवाल ने कहा कि वर्तमान में प्रदेश में कार्यकर्ता आरएसएस, एबीवीपी और भाजपा तीन धड़ों में बंट चुके हैं। कहा कि जब पार्टी में पदाधिकारियों के ही काम नहीं हो रहे तो कार्यकर्ताओं को क्या जवाब दें। उन्होंने पार्टी में कार्यकर्ताओं की सुनवाई न होने के आरोप लगाए। नरेश जसवाल ने इस्तीफे की प्रति भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष नड्डा, प्रदेश अध्यक्ष सुरेश कश्यप और हमीरपुर अध्यक्ष को भेजी है।


जसवाल ने बुधवार को प्रदेश भाजपा अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ के सचिव, भाजपा विधि प्रकोष्ठ हमीरपुर जिला के संयोजक, भाजपा ग्राम केंद्र के पालक एवं पन्ना प्रमुख के सभी औहदों से त्यागपत्र देकर 16 परिवारों के साथ कांग्रेस पार्टी की विधिवत रूप से सदस्यता ग्रहण कर ली। सुजानपुर के विधायक राजेंद्र राणा ने उनका पार्टी में स्वागत करते हुए पार्टी का पटका पहनाकर सम्मानित किया। सदस्यता ग्रहण करने के बाद नरेश जसवाल ने कहा कि जिस घर में मान-सम्मान न हो, उसे छोड़ना ही बेहतर है।

Post a Comment

0 Comments