हिमाचल: पिता ने बेटे को इंजीनयर बनने भेजा था पर वो बन गया मलाणा क्रीम का तस्कर, अरेस्ट

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल: पिता ने बेटे को इंजीनयर बनने भेजा था पर वो बन गया मलाणा क्रीम का तस्कर, अरेस्ट


नई दिल्ली/मंडी।
हिमाचल प्रदेश में नशा और नशा तस्करी की वारदातें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। वहीं, अब सूबे के युवा बाहरी राज्यों में जाकर भी इस जहरीले नशे के धंधे से जुड़ रहे हैं। सूबे के निवासी माता पिता अपने बच्चों को अच्छी शिक्षा देने के लिए प्रदेश के बाहर पढ़ाई करने भेजते हैं लेकिन उन्हें इस बात की भनक तक नहीं लग पाती कि उनका लाल बाहर जाकर क्या गुल खिला रहा है। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: मास्क लगाने को कहा तो ड्राइवर-कंडक्टर से भिड़ गई युवती; थाने में बस से उतारा फिर..

ताजा मामला देश की राजधानी दिल्ली से सामने आया है, जहां नशे की लत पूरी करने के लिए दो इंजीनियर ड्रग सप्लायर बन गए। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने दोनों को एक ट्रक ड्राइवर समेत गिरफ्तार कर लिए। इनकी पहचान हिमाचल निवासी रिद्म राणा (28), उसके दोस्त सर्वेश चौधरी (27) और हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले के राकेश कुमार (36) के रूप में हुई है। इनसे 1206 ग्राम मलाणा क्रीम (हशीश), एक कार और ट्रक बरामद किया है।

पुलिस कर रही मामले की जांच

मुख्य आरोपी रिद्म राणा मूलरूप से हिमाचल का है। फरीदाबाद एक कॉलेज से बीटेक किया था, जहां ड्रग्स लेना शुरू किया। इस लत को पूरा करने के लिए वह खुद भी नशे का धंधा करने लगा। सर्वेश भी रिद्म के साथ कॉलेज में पढ़ता था। दोनों ने इंजीनियरिंग की है। वह भी रिद्म के साथ मिलकर पहले नशा करता था। बाद में वह मलाणा क्रीम बेचने लगा था। हिमाचल प्रदेश में इन्हें कौन माल सप्लाई करता था, पुलिस इसकी जांच कर रही है। इस क्रीम की इंटरनैशनल मार्केट में भी काफी डिमांड रहती है।

10 से 15 हजार में बेचते थे 10 ग्राम नशा 

शुरुआती जांच में पता चला है कि आरोपी राकेश हिमाचल से मलाणा क्रीम लाकर दोनों इंजीनियर को देता था, जो पॉश एरिया में इसे सप्लाई करते थे। जॉइंट सीपी (क्राइम) बीके सिंह द्वारा इस संबंध में जानकारी देते हुए बताया गया कि ड्रग्स सप्लायरों के वसंत कुंज इलाके में फोर्टिस अस्पताल के पास आने की सूचना पर पुलिस टीम ने तीन आरोपियों को एक कार और ट्रक समेत दबोच लिया। 

यह भी पढ़ें: पंजाब पे कमीशन में ऐसा क्या है जो हिमाचल के कर्मचारियों को ठीक नहीं लगा: यहां समझें सबकुछ

पूछताछ में पता चला कि ट्रक ड्राइवर राकेश ट्रक में मलाणा क्रीम लेकर हिमाचल से दिल्ली आया था। एक चक्कर के उसे 25 से 30 हजार रूपए मिलते थे। आरोपी दिल्ली-एनसीआर के पॉश इलाकों में दस ग्राम मलाणा क्रीम 10 से 15 हजार रूपए में बेचते थे।

Post a Comment

0 Comments