हिमाचल: लापरवाही या लाचारी- अस्पताल जाने को ऑपरेशन करा चुकी महिला को कुर्सी पर लाद 4 Km चले

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल: लापरवाही या लाचारी- अस्पताल जाने को ऑपरेशन करा चुकी महिला को कुर्सी पर लाद 4 Km चले


कुल्लू।
हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले की तीर्थन घाटी की पकड़ी पंचायत के लोगों की जिंदगी आज भी विकास के रास्ते पर नहीं पहुंच पाई है। इस पंचायत के नाहीं गांव के लोगों की दशा तो और भी बदतर बनी हुई है। आजादी के इतने साल बीत जाने के बावजूद इस गांव के लोग आज की सड़क सुविधा से वंचित है। 

यहां अगर कोई बीमार पड़ जाए तो उसे चारपाई या कुर्सी पर उठाकर सड़क तक पहुंचाना पड़ रहा है। बुधवार को फिर से गांव में ऐसा ही एक मामला सामने आया है।

यह भी पढ़ें: हिमाचल उपचुनाव: बीजेपी हो कांग्रेस- पारिवारिक उत्तराधिकारियों ने बनाया धर्मसंकट का माहौल

गांव की एक 72 वर्षीय बुजुर्ग महिला रामदेव पत्नी बुधराम का हाल ही में शिमला IGMC में ऑपरेशन हुआ था। उसके बाद उसे घर लाया गया। अभी महिला के ऑपरेशन के टांके भी नहीं निकल पाए कि महिला की तबीयत खराब हो गई। ऐसे में महिला को फिर से अस्पताल लाना पड़ा। गांव के सड़क से न जुड़े होने के कारण इस महिला को लोगों ने कुर्सी पर बांधकर संकरी पगडंडियों से होकर करीब 4 किलोमीटर दूर सड़क तक पहुंचाया। 

यह भी पढ़ें: हिमाचलः पशुओं को चराने घर से निकला था 40 वर्षीय शख्स, ढांक से गिरा- गई जान

उसके बाद ही वाहन के माध्यम से महिला को बंजार अस्पताल पहुंचाया गया, जहां उसका उपचार चल रहा है। ग्रामीणों का कहना है कि गांव के लोग अक्सर इस तरह ही बीमार लोगों को चारपाई में उठाकर सड़क तक पहुंचाते है। स्थानीय लोगों का कहना है कि क्षेत्र में स्वास्थ्य सुविधाओं का पूरी तरह से अभाव है, जिस कारण उन्हें एक सर्दी जुकाम की दवाई लेने के लिए भी कई किलोमीटर दूर पहुंचना पड़ता है। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: BJP नेता ने दिया पद से इस्तीफ़ा; जुब्बल-कोटखाई उपचुनाव के लिए मंत्री को बनाया प्रभारी

गांव के लिए कई बार स्थानीय प्रतिनिधियों के साथ-साथ सरकार के हुक्मरान के समक्ष भी लोगों ने आवाज उठाई है। लेकिन उनकी समस्या को लेकर कोई गंभीर होता दिखाई नहीं दे रहा है लिहाजा आज भी यहां के लोग मुसीबतों का सामना कर रहे हैं।

Post a Comment

0 Comments