हिमाचल का युवक महिला और उसके पति के साथ कर रहा था स्मैक तस्करी: लाखों के नशे संग पकड़ा

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल का युवक महिला और उसके पति के साथ कर रहा था स्मैक तस्करी: लाखों के नशे संग पकड़ा


सहसपुर/सिरमौरः
हिमाचल प्रदेश में बीते कुछ दिनों में नशा तस्करी के काफी मामले सामने आए हैं। लेकिन दुख की बात तो ये है कि नशा तस्करी में प्रदेश के काफी युवा संलिप्त मिल रहे हैं। वे अपने राज्य में ही नहीं बल्कि बाहरी राज्यों में भी नशे की तस्करी कर रहे है। 

ताजा मामला प्रदेश के सिरमौर जिले का है। जहां के रहने वाले एक स्थानीय युवक को एक महिला और उसके पति के साथ उत्तराखंड पुलिस ने नाकाबंदी के दौरान 313 ग्राम स्मैक के साथ गिरफ्तार किया है। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: ट्रक के बाहर खड़ी थी बड़ी बहन अंदर लूट ली गई छोटी की आबरू; 21 साल का है आरोपी

बरामद किए हुए नशे की कीमत अंतरराष्ट्रीय बाजार में लाखों की बताई जा रही है। इस मामले पर पुलिस ने युवक सहित कुल तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ एनडीपीसी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है। वहीं, अदालत में पेश करने के बाद आरोपितों को ज्यूडिशियल कस्टडी पर भेज दिया गया है।

यह भी पढ़ें: हिमाचल: गहरे नाले में जा गिरी तेज रफ़्तार पिकअप, दो घरों के बुझ गए चिराग

आरोपितों की पहचान सत्तार अली पुत्र शब्बीर अहमद निवासी टोका पांवटा साहिब जिला सिरमौर हिमाचल प्रदेश, फुरकान पुत्र यामिन व उसकी पत्नी मेनाज उर्फ नाजो दोनों निवासी टिमली के रूप में हुई है। मिली जानकारी के अनुसार सहसपुर पुलिस को क्षेत्र में पिछले कुछ दिनों से नशा तस्करी की शिकायत मिल रही थी।

यह भी पढ़ें: हिमाचल: मोमोज खाने गए थे भाई-बहन, दुकान वाले ने दोनों पर चला दिया तेज धार औजार

इस बीच शुक्रवार रात करीब साढ़े दस बजे धर्मावाला पुलिस चौकी को सूचना मिली की कुछ लोग नशे की बड़ी खेप के साथ क्षेत्र में दस्तक दे रहे हैं। जिस पर कार्रवाई करते हुए पुलिस टीम ने क्षेत्र में नाकाबंदी की। इस दौरान एक कार मौके पर आ पहुंची। पुलिस ने कार को रोककर तलाशी ली। तलाशी के दौरान पुलिस ने आरोपियों के पास से करीबन  313 ग्राम स्मैक बरामद किया। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: खेत में गोबर फेंकने गई थी भाभी, देवर ने कुल्हाड़ी मारकर खोल दी खोपड़ी

सीओ विकासनगर वीडी उनियाल ने पत्रकारों से हुई विशेष बातचीत के दौरान बताया कि फुरकान गिरोह का सरगना है। जब उससे इस बारे में पूछताछ की गई तो फुरकान ने बताया कि वह बरेली से सस्ते दामों पर थोक में स्मैक खरीदकर लाता है। जिसे वह सहसपुर से लेकर देहरादून शहर तक सप्लाई करता है। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल BJP ने किया साफ: नैहरिया-ओशीन मामले में सरकार नहीं डालेगी दबाव, सबकुछ पुलिस भरोसे

बताया कि लंबे समय से वह इस कार्य को कर रहा है। इतना ही नहीं उसने बताया कि कारोबार को बढाने के लिए उसने सत्तार अली को अपने गिरोह का सदस्य बनाया है। वीडी उनियाल ने बताया कि तीनों आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कोर्ट में पेश किया जा चुका है। जहां से उन्हें ज्यूडिशियल कस्टडी पर भेज दिया गया है।

Post a Comment

0 Comments