हिमाचल: स्वास्थ्य मंत्री के इलाके में ये कैसा पानी पी रही जनता- टैंक में मारा पड़ा था बंदर

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल: स्वास्थ्य मंत्री के इलाके में ये कैसा पानी पी रही जनता- टैंक में मारा पड़ा था बंदर


मंडीः
हिमाचल प्रदेश के मंडी जिला स्थित स्वास्थय मंत्री के गृह क्षेत्र उपमंडल धर्मपुर की गुल्हाड़ी पंचायत के गांव छटेरा में पेयजल के टैंक से एक मरा हुआ बंदर बरामद हुआ है। इस बात का पता तब चला जब पानी पीने वाले नलों से बदबूदार पानी के साथ किसी जानवर के बाल आने लगे। 

पानी में गंदगी आने पर स्थानीय लोगों ने पंचायत उपप्रधान को इस बात की सूचना दी। जब इस बात का निरीक्षण किया गया तो टैंक के अंदर किसी जानवर का शव तैरता हुआ दिखा। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल में बारिश का दौर जारी: 6 जिलों पर अभी और बरसेंगे इंद्र देव- चार दिनों का येलो अलर्ट

उपप्रधान ने इस बात की जानकारी जल शक्ति विभाग को दी। सूचना मिलने के बाद जल विभाग की टीम मौके पर पहुंची और पेयजल आपूर्ति टैंक से मरे हुए बंदर को बाहर निकाला। मिली जानकारी के अनुसार इस पेयजल टैंक से गांव के करीब 250 लोग जुड़े हैं, अब इन सबपर जल जनित रोगों का खतरा मंडराने लगा है। 

यह भी पढ़ें: खबर का असरः CM जयराम ने मंजूर किए 1 लाख, 6 साल से अपने आप टूट जाती हैं प्रिंस की हड्डियां

इस पूरे मामले पर ग्रामिणों का कहना है कि जब से इस टैंक का निर्माण हुआ है तब से ही इस पर ढक्कन लगवाने के लिए कई बार विभाग को सूचित किया गया है लेकिन बार-बार कहने पर भी विभाग ने टैंक पर ढक्कन लगाने की जरूरत नहीं समझी। ऐसे में सबको दूषित पानी पीने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है। 

उपप्रधान ने कहा विभाग की लापरवाही दर्शाता है ये मामला-

उपप्रधान दिनेश गोवर्धन ने इस मामले में जानकारी देते हिए बताया कि टैंक में जानवर का पाया जाना विभाग की लापरवाही को दर्शाता है। साफ है कि विभाग के कर्मचारी बार-बार आग्रह पर भी टैंक का निरीक्षण नहीं करते हैं। पंचायत ने पहले भी भालो गांव के टैंक में गंदगी पाई थी और विभाग को टैंक साफ करने के निर्देश दिए थे। पंचायत से संबंधित शिकायत पत्र स्थानीय मंत्री व जल शक्ति मंत्री को जल्द प्रेषित किया जाएगा। 

मामले की होगी जांच : सुमित सूद 

जलशक्ति विभाग के अधिशासी अभियंता सुमित सूद का कहना है कि यदि इस तरह की लापरवाही विभाग के कर्मचारियों द्वारा बरती गई है, तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। उन्होंने कर्मचारियों को टैंक को साफ करवाकर लोगों को स्वच्छ पानी उपलब्ध करवाने के निर्देश भी दिए हैं।

Post a Comment

0 Comments