हिमाचल में एक और आफत: इस बार नाले में फटा बादल , 50 से अधिक गाडियां फंसीं

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल में एक और आफत: इस बार नाले में फटा बादल , 50 से अधिक गाडियां फंसीं


केलांग।
हिमाचल प्रदेश में बढ़ी हुई मानसून की रफ़्तार ने लोगों का जीना मुहाल कर दिया है। इसी सब के बीच सूबे के जनजातीय जिले लाहुल स्पीति से एक बड़ी परेशान करने वाली खबर सामने आई है। कांगड़ा, चंबा और मंडी से बादल फटने की घटनाएं सामने आ के बाद आज यहां से भी खबर सामने आई है। तामने आई अपडेट के अनुसार राष्ट्रीय राजमार्ग 505 काजा-समदो के तहत आने वाले काजा के लारा नाले में शनिवार आधी रात को बादल फट गया। 

यह भी पढ़ें: वीर-ए-हिमाचल: दूल्हे की तरह सजाया फिर हुई शहीद कमल देव की विदाई, अक्टूबर में थी शादी

भारी बारिश के बाद नाले में बादल फटने से बाढ़ आ गई। हालांकि, बादल फटने की इस घटना से किसी प्रकार का जानी नुकसान नहीं हुआ है। लेकिन सड़क बुरी तरह से बर्बाद हुई है। वहीं, इस वजह से सड़क के दोनों ओर 50 से अधिक वाहन भी फंस गए हैं। अब सड़क बहाल होने के बाद ही यह सभी वाहन लारा नाले से निकल पाएंगे। बादल फटने की सूचना मिलते ही बीआरओ की टीम ने सड़क बहाली का काम शुरू कर दिया है। 

यह भी पढ़ें: HRTC कर्मियों ने वापस लिया हड़ताल; परिवहन मंत्री वार्ता को हुए तैयार; चलेंगी बसें

मशीनरी लगाकर सड़क को बहाल करने की कोशिश चल रही है। बहरहाल जनजातीय क्षेत्रों में बारिश को देखते हुए प्रशासन ने पर्यटकों व स्थानीय लोगों से एहतियात बरतने की अपील की है। पर्यटकों और स्थानीय लोगों को नदी-नालों से दूर रहने की सलाह दी गई है। उपायुक्त नीरज कुमार ने इस संबंध में जानकारी देते हुए कहा कि बादल फटने से क्षतिग्रस्त हुई सड़क को बहाल किया जा रहा है।

Post a Comment

0 Comments