हिमाचल प्रदेश में फटा बादल, बह गई गाड़ियां व बगीचे, तीन गांवों में मची तबाही

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल प्रदेश में फटा बादल, बह गई गाड़ियां व बगीचे, तीन गांवों में मची तबाही


कुल्लूः
हिमाचल प्रदेश में बीते कुछ दिनों से मौसम का मिजाज़ बिगड़ा हुआ है। राज्य के विभिन्न इलाकों में भारी बारिश दर्ज की गई है। इस बीच जिला कुल्लू से बादल फटने की खबर सामने आ रही है। मिली जानकारी के अनुसार जिले के विकास खंड आनी के अंतर्गत आती ग्राम पंचायत बुछैर मे आज सुबह करीब तीन बजे अचानक से बादल फटा। जिसके बाद इलाके में मानो बाढ़ सी आ गई। पानी का सैलाब इतना था कि वे खादवी व तराला गांव मे कई खेत और सेब से लदे पेड़ो को बहाकर ले गया। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: टुल्लू पंप का स्विच ऑन करने पर लगा करंट, चली गई 16 वर्षीय किशोर की जान

खादवी, सरट और तराला गांव में पानी और मलबा आ गया, जिससे करीब 25 परिवारों को भारी नुकसान हुआ है। इतना ही नहीं बाढ़ के पानी की चपेट में आने से दो निजी वाहन भी बह गए। गनीमत यह रही कि इस प्राकृतिक आपदा में किसी तरह का जानी नुकसान नहीं हुआ है। हालांकि लोगों के बगीचे पानी की चपेट में आने से पूरी तरह बर्बाद हो गए हैं।

यह भी पढ़ें: हिमाचल के इन 10 जिलों में होगी बहुत भारी वर्षा: 3 दिनों के लिए है अलर्ट, पढ़ें डीटेल

इस मामले पर पंचायत के उपप्रधान भूप सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि शनिवार सुबह तीन बजे अचानक ऊंचाई वाले क्षेत्र की ओर से पानी का तेज बहाव आया, जिससे लोगों में हड़कंप मच गया। हालांकि लोग समय रहते सुरक्षित जगह शिफ्ट हो गए, अन्यथा जानी नुकसान भी हो सकता था। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि घर के पास सड़क किनारे खड़ी की गाडिय़ां भी बाढ़ की चपेट में आकर बह गई हैं। इसके अलावा खादवी, सरट और तराला गांव में भारी नुकसान हुआ है। 

यह भी पढ़ें: 'वीरभद्र मेरी तारीफ करते थे तो कांग्रेसी नेताओं को तकलीफ होती थी'

इतना ही नहीं बादल फटने से आए जल सैलाब के कारण संवासर के पास गुगरा-जाओं-तराला मार्ग भी अवरुद्ध हो गया है। वहीं, इस आपदा पर बुछैर पंचायत के उपप्रधान भूप सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि गांव में बादल फटने से 19 लोगों के सेब के बागीचों, जमीनों व मकानों को भारी नुकसान पहुंचा है। जबकि कई घर खतरे के दायरे में आ गए है, जिससे ग्रामीण बेहद डरे हुए हैं।

Post a Comment

0 Comments