हिमाचल का एक और जवान हमारे बीच नहीं रहा: मां-पिता और दो बहनों को छोड़ गया इकलौता लाल

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल का एक और जवान हमारे बीच नहीं रहा: मां-पिता और दो बहनों को छोड़ गया इकलौता लाल



कागंड़ाः
हिमाचल प्रदेश से कांगड़ा जिले से जुड़ा हुआ एक बेहद दुखद मामला सामने आया है। जहां जिले के धर्मशाला ब्लॅाक के तहत पड़ते गांव तंगरोटी के एक 21 वर्षीय जवान ने बीमारी के चलते कोलकाता के एक अस्पताल में अंतिम सांस ली। युवक का बीते दिन यानी शुक्रवार को पूरे सैनिक सम्मान के साथ श्री चामुंडा नंदिकेश्वर मोक्ष धाम में अंतिम संस्कार किया गया। इस दौरान मौके पर नौवीं कोर योल के सैन्य धिकारियों व जवानों ने मृतक जवान को श्रद्धांजलि दी। 

यह भी पढ़ें: देवभूमि शर्मसारः ढ़ाई साल की बच्ची के साथ स्कूली छात्र ने किया मुंह काला!

मृतक जवान की पहचान 21 वर्षीय विशाल कुमार के रूप में हुई है। बताया जा रहा है कि मृतक जवान अपने पीछे माता-पिता व दो बड़ी बहनें छोड़ गया है। मृतक युवक की दोनों बहनें अभी आविवाहित हैं। घर के इकलौते बेटे की मौत से पूरा परिवार सदमे में है। बतौर रिपोर्टस, विशाल पिछले एक साल से घर नही आया था। वहीं, इस महीने की 25 तारीख को युवक का छुट्टी पर घर आना तय हुआ था। लेकिन होनी को कोई कैसे टाल सकता है।

यह भी पढ़ें: हिमाचल का जवान हुआ बारूदी सुरंग का शिकार: तीन महीने बाद ही होनी थी शादी

बता दें कि मृतक जवान के पिता सुरेंद्र कुमार दिहाड़ी मजदूरी करते हैं। जबकि उनकी माता सुनीता आंगनबाड़ी में सहायिका के तौर पर कार्यरत हैं। मिली जानकारी के अनुसार युवक अरूणाचल प्रदेश में अपनी सेवाएं दे रहा था। इस दौरान उसकी कंपनी कोलकाता एक्साइज के लिए गई थी। जहां 13 जुलाई को अचानक से तबीयत बिगड़ने की वजह से उसे सिविल अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। लेकिन हालत गंभीर होने के कारण उसे इलाज के लिए कमांड अस्पताल रेफर किया गया। जहां इलाज के दौरान 20 जुलाई को उसकी मौत हो गई।

Post a Comment

0 Comments