हिमाचल की राजधानी में महसूस किए गए भूकंप के झटके: यहां जानें रिएक्टर स्केल पर कितनी थी तीव्रता

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल की राजधानी में महसूस किए गए भूकंप के झटके: यहां जानें रिएक्टर स्केल पर कितनी थी तीव्रता


शिमला। हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला में आज गुरुवार शाम करीब 7:47 बजे भूकंप के झटके महसूस किए गए। सामने आ रही जानकारी के अनुसार रिक्टर पैमाने पर भूकंप की तीव्रता 3.6 रही। भूकंप का केंद्र जमीन के अंदर 10 किलोमीटर गहराई पर था।

यह भी पढ़ें: हिमाचल में एक और कलयुगी मां की करतूत: कूड़े के ढेर में फेंका मिला नवजात

हालांकि, भूकंप के किसी तरह के जानमाल के नुकसान की सूचना नहीं है। भूकंप का झटका महसूस होने पर कई लोग अपने घरों से बाहर निकले। बता दें हिमाचल की राजधानी शिमला भूकंप की दृष्टि से अति संवेदनशील भागों में आती है। ऐसे में यहां के लोगों को अधिक सर्तक रहने की आवश्यकता है। 

भूकंप आने पर क्या करें? 

  • अगर भूकंप के वक्त आप घर में हैं तो फर्श पर बैठ जाएं। 
  • घर में किसी मजबूत टेबल या फर्नीचर के नीचे बैठकर हाथ से सिर और चेहरे को ढकें। 
  • भूकंप के झटके आने तक घर के अंदर ही रहें और झटके रुकने के बाद ही बाहर निकलें। 
  • अगर रात में भूकंप आया है और आप बिस्तर पर लेटे हैं हैं तो लेटे रहें, तकिए से सिर ढक लें। 
  • घर के सभी बिजली स्विच को ऑफ कर दें। 
  • अगर आप भूकंप के दौरान मलबे के नीचे दब जाएं तो किसी रुमाल या कपड़े से मुंह को ढंके। 
  • मलबे के नीचे खुद की मौजूदगी को जताने के लिए पाइप या दीवार को बजाते रहें, ताकि बचाव दल आपको तलाश सके। 
  • अगर आपके पास कुछ उपाय ना हो तो चिल्लाते रहें और हिम्मत ना हारें।

भूकंप आने पर क्या ना करें 

  • भूकंप के वक्त अगर आप घर से बाहर हैं तो ऊंची इमारतों और बिजली के खंभों से दूर रहें। 
  • अगर आप गाड़ी चला रहे हो तो उसे रोक लें और गाड़ी से बाहर ना निकलें। 
  • किसी पुल या फ्लाइओवर पर गाड़ी खड़ी ना करें। 
  • भूकंप के समय अगर आप घर में हैं तो बाहर ना निकलें। 
  • अगर आप भूकंप के वक्त मलबे में दब जाएं तो माचिस बिल्कुल ना जलाएं। इससे गैस लीक होने की वजह से आग लगने का खतरा हो सकता है। 
  • भूकंप आने पर घर में हैं तो चलें नहीं। सही जगह ढूंढें और बैठ जाएं। घर के किसी कोने में चले जाएं। 
  • कांच, खिड़कियों, दरवाज़ों और दीवारों से दूर रहें। 
  • भूकंप के वक्त लिफ्ट के इस्तेमाल बचें। कमज़ोर सीढ़ियों का इस्तेमाल न करें। लिफ्ट और सीढ़ियां दोनों ही टूट सकती हैं। 
  • भूकंप में अगर मलबे में दब जाएं तो ज़्यादा हिले नहीं और धूल ना उड़ाएं। 
  • आपके आप-पास जो चीज़ मौजूद हो उसी से अपनी मौजूदगी जताएं। 
  • भूकंप के दौरान आप पैनिक न करें और किसी भी तरह की अफवाह न फैलाएं

Post a Comment

0 Comments