हिमाचल: आठ दिन जंगल में बेसुध पड़े रहने के बाद भी जिंदा बचा; आस छोड़ बैठे थे परिजन

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल: आठ दिन जंगल में बेसुध पड़े रहने के बाद भी जिंदा बचा; आस छोड़ बैठे थे परिजन

चंबा: आठ दिन तक जंगल में बेहोश पड़े रहने के बाद भी व्यक्ति जीवित मिल गया। मामला चंबा जिले का है। जहां पांगी से अपने घर तीसा लौटने के दौरान हंस राज नामक व्यक्ति का पैर फिसल गया और वह नाले में गिर गया। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल का हैवी ड्राइवर: भूस्खलन के बीच बाइक को कंधे पर उठा पार किया सड़क, वीडियो वायरल

नाले में गिरने के बाद वह बेहोश हो गया। इनकी पहचान हंसराज निवासी गुआड़ी गांव, डाकघर तरेला के रूप में हुई है। परिजन आठ दिन तक तालाश करते रहे लेकिन हंस राज का कोई पता नहीं चला। थक-हारकर परिजनों ने 13 जुलाई को पुलिस में भी लापता होने का मामला दर्ज कराया।

यह भी पढ़ें: हिमाचल: दिन का दूसरा मामला- 29 वर्षीय लड़के ने FB पर लिखा आखिरी ख़त, लगा लिया फंदा

आखिरकार, 15 जुलाई को तालाशी के दौरान ग्रामीण रानीकोट के जंगल पहुंचे तो वहां हंसराज घायल अवस्था में मिले। उन्हें उपचार के लिए चंबा मेडिकल कॉलेज लाया गया, जहां टांग में गंभीर चोट की वजह से उन्हें भर्ती किया गया है। डॉक्टरों ने उनकी टांग के ऑपरेशन की बात कही है।

Post a Comment

0 Comments