हिमाचल में पकडाया फर्जी रिटायर्ड कर्नल: BRO के नाम पर लगाता था चूना, साइबर से से नहीं बच सका

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल में पकडाया फर्जी रिटायर्ड कर्नल: BRO के नाम पर लगाता था चूना, साइबर से से नहीं बच सका


कुल्लूः
हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले में ठगी का नया मामला सामने आया है। जहां आरोपित शख्स ने खुद को फर्जी बीआरओ से रिटायर्ड कर्नल बता कर दिल्ली से शिकायतकर्ता को पहले तो मनाली बुलाया उसके बाद वहां स्थित एक होटल में डील तय कर 25000 रूपए नकद ले लिए। 

इसके बाद  पीड़ित शख्स को निविदाएं  भेजने का झांसा देकर गायव हो गया। इतना ही नहीं आरोपित शख्स ने अपना फोन भी बंद कर दिया। पीड़ित व्यक्ति ने इस बात की शिकायत पुलिस में दी। मिली शिकायत पर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने मामला दर्ज कर साईबर सेल की मदद से आरोपित व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया है। जिले पुलिस द्वारा अदालत में पेश किया जाएगा। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल में गज़ब खेल: उत्पीड़न के आरोपी अफसर को महिला विकास की मिली जिम्मेदारी

पुलिस को दी शिकायत में पीड़ित व्यक्ति ने बताया कि मनाली से किसी व्यक्ति ने उसे फोन किया और फोन करके बताया कि वो बीआरओ से रिटायर्ड कर्नल है। इतना ही नहीं वे बीआरओ के बहुत सारे काम देखता है आजकल बीआरओ में जवानों के लिए और स्टोर के लिए काफी समान की खरीददारी होनी है, जिसकी डिमांड बहुत बड़ी रहेगी। अगर आपने सामान बेचना है तो आप उससे संपर्क कर सकते हैं, और मैं आपको समान का ठेका दिलवा दूंगा। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: देवी शक्तिपीठ के बाहरी बाजार में पड़ा मिला बाबा, टूट चुकी थी सांसें

बातचीत करने व डील करवाने के लिए उसने शिकायतकर्ता को दिल्ली से मनाली बुलाया और एक होटल में उनकी डील तय हुई। अपने आप को सेवानिवृत कर्नल बताने वाले व्यक्ति ने 25000 रुपये नकद ले लिए और बोला के आपको निविदाएं भेजता हूं और उसके बाद रफूचक्कर हो गया। उसके बाद से उसका फोन बंद आ रहा था।

यह भी पढ़ें: हिमाचल: अनियंत्रित होकर गहरी खाई में पलटी कार, सवार थे पति-पत्नी

वहीं, पुलिस द्वारा पूछताछ के दौरान आरोपित शख्स ने स्वीकारा कि वो साल 2000 से अलग-अलग राज्यों मे ठगी कर चुका है, जिसमें मुंबई, पंजाब, चंडीगढ़, मोहाली, उत्‍तराखंड, हिमाचल में मंडी और कुल्लू में कई लोगों को निशाना बना चुका है। आरोपित ने यह भी बताया कि सबसे पहले उसने ठगी अखबारों में दिए गए विज्ञापन से शुरू की थी। वहां पर बहुत सारे लोगों की डिटेल मिल जाती है।

 यह भी पढ़ें: हिमाचल: BRO के कर्मी दीपक की नहीं हो सकी तलाश, बैरिकेड तोड़ सतलुज में गिरा था

इसके साथ ही आरोपित ने बताया कि वह लोगों को फोन करके बड़े ही प्रोफेशनल तरीके से ठगी का शिकार बनाता था। धीरे-धीरे उसने काफी सारी चीजें सीखी, हर घटना के बाद वह अपना नंबर व लोकेशन बदलता था, और बड़ी ठगी करने की बजाय छोटी छोटी ठगी को अंजाम देता था, ताकि पुलिस भी मामला दर्ज न करे और अगर कहीं पकड़ा जाए तो आपस में ही मामले को निपटा दिया जाए।

यह भी पढ़ें: हिमाचल: घर से निकला शख्स नाले के तेज बहाव में बहा- दो दिन बाद पड़ा हुआ मिला

घटना को अंजाम देने के लिए आरोपित ने कई फर्जी ईमेल आईडी भी बनाई थी। एक तो उसमें बीआरओ के नाम से थी। इतना ही नहीं उसने फर्जी स्टैंप और फर्जी लेटरहेड पेड भी बनाया था। आरोपित के पास से कई संदिग्ध वस्तुएं बरामद हुई हैं।  पुलिस ने आरोपित शख्स के पास से कई बैंक खातों के एटीएम कार्ड, मोबाइल, सिम कार्ड बरामद किए हैं। जिसकी जांच पुलिस द्वारा की जा रही है। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल के धार्मिक समारोह से लौट रहे पिता पुत्र को वाहन ने उड़ाया, बेटे को देना था आर्मी का रिटेन

प्राप्त जानकारी के मुताबिक आरोपित शख्स पिछले दो सालों से जिला कुल्लू में मनाली तथा पतलीकूहल के क्षेत्र में रहकर दूसरे राज्यों के लोगों को वहां बुलाकर ठगी का शिकार बना रहा था। मनाली में ही आरोपित ने 20 से ज्यादा ठगी वाली वारदातों को अंजाम दिया है।

Post a Comment

0 Comments