हिमाचल: उफनते नाले को पार कर पहुंचाया अस्पताल, बहने से बाल-बाल बचा युवक

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल: उफनते नाले को पार कर पहुंचाया अस्पताल, बहने से बाल-बाल बचा युवक

केलांग: हिमाचल में भारी बारिश और मानसून का कहर जारी है। लाहुल घाटी के जाहलमा व शांशा पुल बह जाने से ग्रामीणों की दिक्कत बढ़ गई है। ग्रामीण जान जोखिम में डाल नाले आर पार कर रहे हैं। आज सुबह तिन्दी के पास सड़क दुर्घटना में जतिन व राहुल दो व्यक्ति घायल हो गए। दोनों को उदयपुर अस्पताल में भर्ती करवाया लेकिन जतिन की हालत बिगड़ती देख उसे रेफर कर दिया।

यह भी पढ़ें: हिमाचल की सबसे बड़ी खबर: सीएम जयराम ठाकुर ने खुद बताया कब होंगे सूबे में उपचुनाव

ग्रामीणों ने जोखिम उठाते हुए जतिन को जाहलमा पहुंचाया। नाले में पानी अधिक होने के कारण सभी दिक्कत में पड़ गए लेकिन ग्रामीणों ने हिम्मत नहीं हारी और जोखिम उठाते हुए नाले को पार कर लिया। जाहलमा के बाद शांशा नाले ने ग्रामीणों की परीक्षा ली लेकिन ग्रामीण यहां भी जोखिम उठाते हुए आगे बढ़ गए। ग्रामीणों ने शांशा नाले को पार कर जतिन को पीठ पर कीर्तिंग गांव पहुंचाया जहां से वाहन द्वारा केलंग अस्पताल पहुंचे।

यह भी पढ़ें: जयराम सरकार दिखाएगी बारागटा परिवार पर भरोसा: चेतन घोषित हुए बीजेपी प्रत्याशी!

आज सरकार ने हेलीकॉप्टर द्वारा घाटी में फंसे लोगों को घाटी से बाहर निकलना था। लेकिन मौसम खराब होने के कारण हेलीकॉप्टर नही आ सका। उधर, तकनीकी शिक्षा मंत्री डॉक्टर रामलाल मार्कंडेय ने स्वयं राहत बचाव कार्य की कमान संभाली है। मंत्री जिला प्रशासन के साथ मौके पर डटे हुए हैं और लोगों की हिम्मत बढ़ा रहे हैं।

Post a Comment

0 Comments