हिमाचल में बाढ़-बारिश ने छीन ली 12 लोगों की जिंदगी: अब करगिल में फट गया बादल- भारी तबाही

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल में बाढ़-बारिश ने छीन ली 12 लोगों की जिंदगी: अब करगिल में फट गया बादल- भारी तबाही


शिमला।
हिमाचल प्रदेश में जारी खराब मौसम के दौर के बीच सूबे के कुल 12 लोगों की जान भारी बारिश होने की वजह से आई बाढ़ के चलते जा चुकी है। इस सब के बीच सामने आ रही ताजा अपडेट के अनुसार केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख में करगिल के विभिन्न क्षेत्रों में दो बादल फटने से एक लघु पनबिजली परियोजना, लगभग एक दर्जन मकान और खड़ी फसलों को नुकसान पहुंचा है। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: दो बच्चियों के पिता ने शराब समझकर पी लिया जहर, चली गई जान- पसरा मातम

इस संबंध में जानकारी देते हुए अधिकारियों द्वारा बताया गया कि सांगरा और खंगराल में मंगलवार शाम बादल फटने से किसी के हताहत होने की जानकारी नहीं मिली है। वहीं, हिमाचल प्रदेश में मूसलाधार बारिश के कारण अचानक आई बाढ़ में कम से कम 12 लोगों की मौत की आशंका है और सात लोगों के लापता होने की सूचना मिली है। 

आपदा प्रबंधन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बुधवार को यह जानकारी देते हुए बताया कि कुल्लू जिले में चार व्यक्तियों और चम्बा में एक व्यक्ति की मौत होने की आशंका है। लाहुल-स्पीति में 7 लोगों की मौत हो गई और 3 लोग लापता हैं। लाहुल में जान गंवाने वाले मृतकों की पहचान  शेर सिंह (62), रूम सिंह (41), मेहर चंद (50), नीरथ राम (42) के तौर पर हुई है। ये सभी मंडी जिले के धमसोई गांव के रहने वाले हैं। 

यह भी पढ़ें: अब शिमला में फटा बादल: पुल व चार गाडियां बहीं, बाढ़ की चपेट में आए 14 में से 6 की बॉडी बरामद

तेज राम (75), देसराज (42) निवासी धमसोई और ऐतम राम (60) निवासी पनारसा, मंडी को रेस्क्यू किया गया है। इसी तरह कुल्लू जिला में 25 वर्षीय महिला अपने चार वर्षीय बच्चे के साथ पार्वती नदी में बह गई है। इसके अलावा कुल्लू में दिल्ली की एक पर्यटक महिला और एक स्थानीय व्यक्ति भी लापता है। किन्नौर में बादल फटने से भारी नुकसान हुआ है। मंगलवार रात से बुधवार सुबह आठ बजे तक प्रदेश में सबसे अधिक बारिश धर्मशाला में 101 मिलीमीटर रिकॉर्ड हुई।

Post a Comment

0 Comments