हिमाचल में ऐसे भागेगा कोरोना: बिना मास्क के लग रही वैक्सीन- भीड़ तो इतनी की पूछो ही मत

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल में ऐसे भागेगा कोरोना: बिना मास्क के लग रही वैक्सीन- भीड़ तो इतनी की पूछो ही मत


हमीरपुरः
हिमाचल प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर का असर काफी हद तक कम हो गया है। इस सब के बीच प्रदेश सरकार द्वारा सूबे भर में कोरोना वायरस संक्रमण के रोकथाम के लिए बनाए गए नियमों का पालन करने की अपील जनता से की जा रही है। 

इसके साथ ही साथ प्रदेश के भीतर कोरोना वैक्सीनेशन अभियान को भी तेजी से आगे बढाने पर जोर दिया जा रहा है। इस सब के बीच सूबे के अलग-अलग इलाकों से कुछ ऐसी तस्वीरें सामने आ रही हैं, जिन्हें देखने के बाद सबसे बड़ा और पहला सवाल ये उठता है कि क्या इसी तरह कोरोना को प्रदेश से ख़त्म किया जाएगा। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल में पंजाबी शराबी का उपद्रव: बोला- सबकुछ जला दूंगा, पुलिस के सामने भी नहीं आया बाज

ताजा अपडेट हमीरपुर जिले से सामने आई है, जहां स्थित एक वैक्सीनेशन सेंटर में टीका लगवाने के लिए उमड़ी भीड़ ने कोरोना गाइडलाइन की जमकर धज्जियां उड़ाई गईं। यहां तक की टीका लगाने सेंटर पहुंची स्वास्थय महिला कर्मी ने खुद मास्क तक नहीं पहना हुआ था। जब स्वास्थय कर्मी खुद कोरोना गाइडलाइन का पालन नहीं करेंगे तो आम जन मानस तो लापरवाही करेगा ही। यह नजारा देखकर ऐसा लग रहा है कि लोगों ने कोरोना को हल्के में लेना शुरू कर दिया है। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: ड्यूटी के दौरान कोरोना से जान गंवाने वाली 2 हेल्थ वर्कर्स के परिजनों को मिले 50-50 लाख

मिली जानकारी के मुताबिक यह मामला जिले की ग्राम पंचायत धलोट के टीकाकरण केंद्र का है। जहां वैक्सीन लगाने सेंटर पहुंचे लोगों ने सोशल डिस्टेंसिंग की खूब धज्जियां उड़ाई। खुद महिला कर्मी ने टीका लगाते वक्त मास्क नहीं पहना हुआ था। यह सब देखकर कई लोगों ने आपत्ति भी जताई। इतना ही नहीं ग्रामीण केंद्रों में टोकन नंबर दिए जाने पर भी स्थानीय लोगों ने सवाल उठाए हैं।

यह भी पढ़ें: हिमाचल शर्मसार: गंभीर हालत में शादीशुदा महिला बोली- ससुराल वालों ने जबरदस्ती पिलाया जहर

धलोट में टीकाकरण करवाने पहुंचे युवाओं ने बताया कि पहले केंद्र में लिस्ट में ज्यादा लोगों का नाम था, लेकिन लिस्ट को गायब करके टोकन सिस्टम कर दिया गया है, जिससे लोगों को काफी परेशानी हुई है। उन्होंने बताया कि टीकाकरण के लिए प्रशासन को सही ढंग से प्रावधान करना चाहिए, ताकि लोगों को किसी भी प्रकार की असुविधा ना हो। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल शर्मसार: गंभीर हालत में शादीशुदा महिला बोली- ससुराल वालों ने जबरदस्ती पिलाया जहर

इस मसले पर ड्यूटी पर तैनात महिला स्वास्थ्य केंद्र इंचार्ज रेणुका ने जानकारी देते हुए बताया कि सभी लोगों को टोकन दिए गए हैं और टोकन प्रक्रिया में किसी के साथ कोई भेदभाव नहीं किया गया है। वहीं, जब महिला कर्मचारी से सोशल डिस्टेंसिंग के बारे में पूछा गया तो उन्होंने बताया कि सभी लोग मास्क लगाकर आए हुए हैं और कोई भी सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां नहीं उड़ा रहा है।

Post a Comment

0 Comments