हिमाचल: चट्टानों की चपेट में आई कार- छत फाड़कर बाहर निकाला गया ड्राइवर

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल: चट्टानों की चपेट में आई कार- छत फाड़कर बाहर निकाला गया ड्राइवर


कांगड़ा।
हिमाचल प्रदेश के जनजातीय जिले किन्नौर में हुई चट्टानों की बारिश के चपेट में आने से हुई 9 पर्यटकों की मौत को अभी सूबे के लोग जहन में बसाकर बैठे ही थे कि एक और इसी तरह की खबर सामने आई है। मामला सूबे के कांगड़ा जिले में पेश आया। जहां पठानकोट-मंडी एनएच पर न्याजपुर के समीप एक कार अचानक भूस्खलन की चपेट में आ गई। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: कल ही हुआ था बेटी का ब्याह, आज दुल्हन के पिता-दादी का निधन, पसरा मातम

कार के ऊपर अचानक से गिरी चट्टनों ने कार के परखच्चे उड़ा दिए। स्थिति इतनी खराब हो गई थी कि भारी-भरकम चट्टानों के बीच फंसे चालक को काफी मशक्कत के बाद कार की छत को फाड़कर निकाला गया। इस हादसे में घायल हुए कार ड्राइवर की एक टांग फ्रैक्चर होने की पुष्टि हुई है। जिसे इलाज के लिए टांडा मेडिकल कॉलेज भेजा गया है। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: शादी का झांसा दे किशोरी को भगाकर लूटी थी इज्जत, कोर्ट ने सुनाई सजा

घटनास्थल पर मौजूद लोगों की मानें तो गनीमत रही कि कोई बड़ी चट्टान गाड़ी की छत पर नहीं गिरी। बताया गया कि चट्टानों के दरकने से मलबा नीचे सड़क की तरफ आया। इसी दौरान वहां से गुजर रही कार इसकी चपेट में आ गई और मलबा कार के अगले हिस्से पर गिरने से कार चट्टानों के बीच में फंस गई। वहीं, इस बात का पता चलते ही प्रशासन टीम के साथ मौके पर पहुंच कर राहत बचाव में जुट गया। 

यह भी पढ़ें: जयराम सरकार का तोहफा: जनजातीय क्षेत्र में सेवाएं दे रहे कर्मियों को मिलेगा लाभ, जानें


इसके बाद स्थानीय लोगों की मदद से कार चालक को गाड़ी की छत को तोड़ कर बाहर निकाला गया। बता दें कि बीते शनिवार को इसी जगह से कुछ मीटर की दूरी पर भी देर रात भूस्खलन हुआ था। लेकिन उस समय रात को ट्रैफिक कम होने के चलते कोई हादसा पेश नहीं आया था और लोनिवि ने करीब डेढ़ घंटे की मशक्कत के बाद सड़ल मार्ग बहाल कर दिया था।

Post a Comment

0 Comments