हिमाचल में बारिश ऐसी की राजधानी में ढह गया मकान: नौ साल की बच्ची दबी, हालत नाजुक!

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल में बारिश ऐसी की राजधानी में ढह गया मकान: नौ साल की बच्ची दबी, हालत नाजुक!

शिमला: हिमाचल प्रदेश में बीते सुख वक्त से मौसम का हाल काफी ज्यादा खराब है, जिसके चलते सूबे के अलग-अलग इलाकों में लगातार बारिश देखने को मिल रही है। ताजा अपडेट सूबे की राजधानी शिमला से सामने आई है। यहां स्थित नगर निगम के रुलदु भट्ठा वार्ड में बारिश की वजह से मकान का एक हिस्सा ढह गया। यह झोपड़ीनुमा घर (ढारा) गिरने से नौ साल की बच्ची इसकी चपेट में आ गई। 

सुबह के छह बजे गिर गया मकान:

बच्ची की गंभीर हालत को देखते हुए उसे इलाज के लिए आईजीएमसी शिमला में भर्ती करवाया गया है। जानकारी अनुसार मकान के पास ही नाला बहता है। भारी बारिश के कारण सुबह करीब 6 बजे मकान का एक हिस्सा भरभरा कर गिर गया। एक बच्ची इसकी चपेट में आकर घायल हुई। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: भूस्खलन में जवान शहीद; बचाव अभियान में BRO के 2 अधिकारियों ने भी गंवाई जान

लेकिन हैरानी की बात यह है कि हादसे के तीन घंटे बीत जाने के बाद कोई भी प्रशासन या नगर निगम का अधिकारी मौके पर नही पहुंचा। हालांकि, हादसे की सूचना के बाद स्थानीय पार्षद संजीव ठाकुर ने मौके पर पहुंच कर प्रशासन को इसकी सूचना दी।

घटना के समय सभी सदस्य घर में ही थे:

बतौर रिपोर्ट्स, घटना के वक्त परिवार के बाकी सदस्य मकान में ही मौजूद थे, जो बाल-बाल बच गए। प्रभावित परिवार को अभी प्रशासन की तरफ से फौरी राहत नहीं मिली है। स्थानीय निवासी सुमित ने बताया कि इस नाले की खुदाई एक महीने पहले सीवरेज लाइन बिछाने के लिए हुई थी तथा पिछले कई वर्षों से नाले की मरम्मत नहीं हुई है।

यह भी पढ़ें: हिमाचल में पहली बार: IGMC के डॉक्टारों ने बिना चीरफाड़ 12 वर्षीय बच्चे के दिल का छेद किया ठीक

सुमित ने आगे बताया कि इस मलबे में इनका एलईडी टीवी किचन बाथरूम का सामान घरेलू सामान मलबे में दब गया है। स्थानीय पार्षद संजीव ठाकुर का कहना है कि शहर में कहीं भी घटना होती है तो प्रशासन से लेकर नेता वहां पर पहुंच जाते हैं, लेकिन गरीब व आम आदमी के घर पर बच्चे घायल हो जाते हैं तो पार्षद को छोड़कर कोई भी मदद के लिए नहीं पहुंचताा।

Post a Comment

0 Comments