मंडी में बदल रहा खेल: 'राजमाता' के एक्टिव होते ही BJP में हलचल, अग्निहोत्री का 'वार' भी इशारा है

Ticker

6/recent/ticker-posts

मंडी में बदल रहा खेल: 'राजमाता' के एक्टिव होते ही BJP में हलचल, अग्निहोत्री का 'वार' भी इशारा है


मंडी।
हिमाचल प्रदेश में जल्द ही उपचुनावों का आयोजन किया जाना है। जिसमें से सबसे महत्वपूर्ण सीट है - मंडी लोकसभा सीट। जो कि बीजेपी सांसद रामस्वरूप शर्मा के निधन के बाद से ही खाली चल रही है। सीएम जयराम ठाकुर का गृह जिला होने की वजह से इस सीट का महत्व बीजेपी के लिए और बढ़ जाता है। 

वहीं, कांग्रेस के लिए इस सीट पर जीत हासिल करना इस वजह से और अहम् हो जाता है, क्योंकि राजा वीरभद्र सिंह के निधन के बाद कांग्रेस को सूबे की जनता में अपना विशवास और मजबूत करने के लिए एक बड़ी जीत हासिल करने की नितांत आवश्यकता है। 

'राजमाता' 4 साल बाद सोशल मीडिया पर हुईं एक्टिव 

वहीं, सूबे में लगातार गरमा रहे राजनीति माहौल के बीच 'राजमाता' यानी कि स्वर्गीय राजा वीरभद्र सिंह की पत्नी प्रतिभा सिंह अचानक से चार साल बाद सोशल मीडिया पर एक्टिव हो गई हैं, जिसकी वजह से बीजेपी में भी हलचल बढ़ गई है। ऐसे में क्यास लगाए जा रहे हैं कि वह मंडी या फिर अपने पति के निधन के बाद खाली हुई अर्की विधानसभा सीट से चुनाव लड़ सकती हैं। चर्चाओँ का बाजार गर्म है। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल में बाढ़-बारिश ने छीन ली 12 लोगों की जिंदगी: अब करगिल में फट गया बादल- भारी तबाही

अहम बात है कि प्रतिभा सिंह ने अक्तूबर 2017 के बाद अब अपना पेज अपडेट किया और कोई पोस्ट डाली है। वहीं, इससे पहले राज वीरभद्र सिंह और प्रतिभा सिंह के बेटे और कांग्रेस विधायक विक्रमादित्य सिंह ने भी अपनी एक सोशल मीडिया पोस्ट के जारी इस बात की तरफ इशारा किया था कि उनकी माता इस बार के उपचुनावों में मैदान में उतर सकती हैं। गौरतलब है कि दिवंगत सीएम के निधन के बाद मार्केट में बनी हुई सहानुभूति का लाभ उठाने में कांग्रेस कोई कोर कसर नहीं छोड़ने वाली है। 

मुकेश अग्निहोत्री भी जुटे हैं रण सजाने में 

वहीं, दूसरी तरफ कांग्रेस वरिष्ठ विधायक और नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री भी मंडी सीट के लिए कांग्रेस का रण सजाने की तैयारी में जुट गए हैं। बीते कल ही अग्निहोत्री ने भाजपा के दिवंगत सांसद रामस्वरूप शर्मा आत्महत्या मामले की जांच सीबीआई से करवाने की मांग कर अपनी नीयत और इरादे पूरी तरह से साफ़ कर दिए थे। माना जा रहा है कि कांग्रेस सांसद राम स्वरुप शर्मा के सुसाइड मामले को ह्त्या का संदिग्ध मामला दर्शाकर लाभ की स्थिति में जाने के प्रयास में जुटी हुई है। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: दो बच्चियों के पिता ने शराब समझकर पी लिया जहर, चली गई जान- पसरा मातम

बीते कल अग्निहोत्री ने कहा था कि अगर परिवार चाहेगा तो जांच सीबीआई से करवाई जाएगी। मुकेश ने कहा कि अब परिवार भी चाह रहा है तो इसकी जांच सीबीआई से ही करानी चाहिए। मंडी में पत्रकारों से बातचीत के दौरान नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि मंडी में कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों से मंडी संसदीय उपचुनाव को लेकर फीडबैक लिया गया है। इसकी रिपोर्ट आलाकमान को सौंपी जाएगी। 

Post a Comment

0 Comments