बोह वैली से मिला अंतिम लापता युवक का शव, बंद हुआ रेस्क्यू कार्य

Ticker

6/recent/ticker-posts

बोह वैली से मिला अंतिम लापता युवक का शव, बंद हुआ रेस्क्यू कार्य

कांगड़ा: बोह घाटी के रुलेहड़ में बीते दिनों हुए भूस्खलन की चपेट में आए अंतिम व्यक्ति का शव मिल गया। जिसके बाद अब रेस्क्यू कार्य रोक दिया गया है। सभी लापता लोगों का शव मिल गया है।

नीरज की मां ने खोया होश:

बता दें कि  रुलेहड़ निवासी भीम सेन के पुत्र नीरज की तालाश पहले दिन से ही जारी थी। लेकिन शव नहीं मिल पाया था। आखिरकार आज रविवार को घर से कुछ ही दूरी पर एक बड़े पत्थर के नीचे क्षत-विक्षत हालत में नीरज का शव मिला।

यह भी पढ़ें: हिमाचल: 14 वर्षीय अनामिका को सांप ने काटा- अस्पताल भी नहीं ले गए, टूट गया दम

नीरज के परिवार के पांच लोगों की जान इस प्राकृतिक आपदा ने ले ली। जिसमें उसके पिता भीमसेन भी शामिल हैं। नीरज की मां अपने पशुओं को लेकर ऊपर पहाड़ी में गई हुई थी। जब वापस आई तो पूरा परिवार खत्म हो चुका था। इस दुःख के कारण वह अपना सुध-बुध खो बैठी हैं।

यह भी पढ़ें: हाय रे मोहब्बत: महिला ने तोड़ दी 20 साल की शादी: बोली- ट्रक ड्राइवर प्रेमी के साथ रहूंगी

गौरतलब है कि भूस्खलन की चपेट की चपेट में आने से 15 लोग लापता हो गए थे, जिसमें पांच लोगों को स्थानीय लोगों, एनडीआरएफ व गृह रक्षक की टीमों ने सुरक्षित निकाल लिया था, लेकिन हादसे में 10 लोगों की जानें चली गई हैं। सभी के शव भी अब निकाले जा चुके हैं।

Post a Comment

0 Comments