किन्नौर भूस्खलन: 150 पर्यटक फंसे- तीन पंचायतों में बुजली गुल, CM बोले- जारी है सेना का रेस्क्यू

Ticker

6/recent/ticker-posts

किन्नौर भूस्खलन: 150 पर्यटक फंसे- तीन पंचायतों में बुजली गुल, CM बोले- जारी है सेना का रेस्क्यू


शिमला।
हिमाचल प्रदेश के जनजातीय जिले किन्नौर में हुए दर्दनाक हादसे के बाद पुल टूट जाने से छितकुल और रक्षम में 150 सैलानी फंसे हुए हैं। छितकुल, रक्षम और बटसेरी पंचायतों में बिजली गुल है जबकि सिंचाई योजना भी ठप पड़ी हुई है। सीएम जयराम ठाकुर ने बताया कि आठ मृतकों के शव दिल्ली तक पहुंचाने के लिए सरकार ने प्रबंध किया है।

यह भी पढ़ें: हिमाचल: बच्चों के साथ समोसा खाने गए थे, अंदर से निकली मरी हुई छिपकली

जयराम ठाकुर ने बताया कि प्रदेश सरकार की ओर से मृतक परिवारों को 4-4 लाख रुपये और घायलों को हरसंभव सहायता देने का एलान किया गया है। उन्होंने कहा कि साफ मौसम में पहाड़ी से चट्टानें और पत्थर गिरे हैं। इस हादसे में घायल तीनों लोगों का उपचार चल रहा है। 

हिमाचल के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने बताया कि घटना वाली जगह पर प्रशासन की टीमें सेना के साथ बचाव कार्य में लगी हुई हैं। अभी भी उस क्षेत्र में 100 से 120 लोग फंसे हुए हैं, जिन्हें सेना की सहायता से रेस्क्यू किया जा रहा है। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल से बुरी ख़बर: फेल हुआ कार का ब्रेक, पिकअप भी गिरी- 2 की गई जान, 3 जख्मी

सोमवार को एसडीएम कल्पा एवं जिला पर्यटन अधिकारी स्वाति डोगरा ने घटनास्थल का दौरा किया। उपायुक्त किन्नौर आबिद हुसैन सादिक ने कहा कि सांगला-छितकुल संपर्क मार्ग पर गुंसा के पास 300 मीटर बंद पड़ी सड़क को बहाल करने के लिए मशीनरी जुटी हुई है। 

डेढ़ करोड़ की लागत से बने 120 मीटर लंबे वैली ब्रिज की मरम्मत भी जल्द शुरू की जाएगी। उल्लेखनीय है कि रविवार को हुए हादसे में राजस्थान, छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र और दिल्ली के नौ पर्यटकों की मौत हो गई थी।

Post a Comment

0 Comments