किन्नौर भूस्खलन: नौसेना के लेफ्टिनेंट की भी गई जान, महिला डॉक्टर की आखिरी तस्वीर वायरल

Ticker

6/recent/ticker-posts

किन्नौर भूस्खलन: नौसेना के लेफ्टिनेंट की भी गई जान, महिला डॉक्टर की आखिरी तस्वीर वायरल


शिमला।
हिमाचल प्रदेश के लिए बीते कल का दिन काफी ज्यादा बुरा गुजरा। सूबे के जनजातीय जिले किन्नौर में हुए भूस्खलन से कुल 9 लोगों की जान चली गई है। वहीं, धीरे-धीरे का इस हादसे में जान गंवाने वाले लोगों की तस्वीरें और उनके असल डीटेल सामने आने लगे हैं। 

इसी फेहरिस्त में सबसे अधिक चर्चा का विषय बनी हुई है। एक महिला डॉक्टर की आखिरी तस्वीर, जो कि उन्होंने जान गंवाने से कुछ ही देर पहले अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर की थी। 

इन महिला डॉक्टर का नाम है दीपा, जो आयुर्वेद की डॉक्टर हैं और जयपुर की रहने वाली हैं। दीपा पहली बार अकेले किसी सफर पर निकली थीं। कल रविवार को किन्नौर में जब लैंडस्लाइड हुआ उससे कुछ वक्त पहले दीपा ने ट्विटर पर अपनी फोटो साझा की थी। 

पोस्ट में उन्होंने लिखा था कि वो इस वक्त भारत के आखिरी प्वाइंट पर खड़ी हैं, जहां सिविलयन को जाने की इजाजत है। इसके आगे तिब्बत है जिस पर चीन ने कब्जा किया है। उनके चेहरे पर इस टूर की खुशी साफ दिख रही थी। 

नौसेना के लेफ्टिनेंट की भी गई जान

वहीं, जान गंवाने वालों में छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले का निवासी नौसेना का एक 31 वर्षीय जवान अमोघ बापट भी शामिल है। अमोघ नौसेना लेफ्टिनेंट थे। उनकी पोस्टिंग अंडमान निकोबार में थी। 15 दिन की छुट्टी पर घर पहुंचे थे। पिछले रविवार को माता-पिता से मिलने के बाद हिमाचल प्रदेश शिमला जाने के लिए निकले थे।


यह भी पढ़ें: हिमाचल में नौकरियां: ड्राइवर, इलेक्ट्रीशियन-मशीन ऑपरेटर जैसे पद हैं खाली, पढ़ें डीटेल

हिमाचल पुलिस ने दर्री थाना को घटना की सूचना दी। वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया गया। हादसे में अमोघ के मारे जाने की सूचना कोरबा पुलिस ने घर पहुंचकर परिवार को दिया। यह सुनकर परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा। अमोघ के साथ उनके दोस्त सतीश कटकवार की भी मौत हुई है। अमोघ के साथ सतीश भी हिमाचल गया था।

Post a Comment

0 Comments