हिमाचल में लागू हो गया नया मोटर व्हीकल एक्ट: यहां जानें किस नियम के उल्लंघन पर कितना जुर्माना

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल में लागू हो गया नया मोटर व्हीकल एक्ट: यहां जानें किस नियम के उल्लंघन पर कितना जुर्माना


शिमला।
हिमाचल प्रदेश की जयराम सरकार ने लंबे इंतज़ार के बाद अब जाकर सूबे में नया मोटर व्हीकल एक्ट लागू कर दिया है। हिमाचल प्रदेश के परिवहन विभाग ने इस संबंध में आधिकारिक आधिसूचना भी जारी कर दी है। बता दें कि सरकार के परिवहन विभाग द्वारा अधिसूचित इस एक्ट के गजट में प्रकाशित होने के बाद प्रदेश में वाहनों के चालान की नई दरें लागू कर दी जाएंगी। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल के कर्मियों को नए वेतन आयोग के लिए करना होगा अभी इंतज़ार, जानें क्यों होगी देरी

नए नियमों के तहत अपंग या किसी बीमार व्यक्ति के वाहन चलाने पर भी अब खैर नहीं होगी। ऐसी परिस्थितियों में डेढ़ हजार रुपए तक के जुर्माने का प्रावधान किया गया है। वहीं, अब इस प्रकार नए मोटर व्हीकल एक्ट में आईडल पार्किंग से लेकर सार्वजनिक स्थलों पर वाहनों को खड़ा करने तक सभी वाहनों की दरें बढ़ा दी हैं। नीचे दी गई लिस्ट में आप देख सकते हैं कि अब से सड़क यातायात के किस नियम का उल्लंघन करने पर आपको कितना जुर्माना अदा करना पड़ेगा।

ये नियम तोड़ने पर जुर्माने की लिस्ट...

नियमजुर्माना राशि
सीट बेल्ट न लगाने पर1500 जुर्माना
किसी अयोग्य के वाहन चलाने पर15000 जुर्माना
वाहन चलाते वक्त ध्वनि या वायु प्रदूषण करना15000 जुर्माना
अनाधिकृत व्यक्ति को वाहन चलाने की अनुमति देने पर7500 जुर्माना
चालक के पास लाइसेंस नहीं पाया जाना15000 जुर्माना
बिना रजिस्ट्रेशन और फिटनेस के वाहन चलाने पर15000 जुर्माना
LMV को लिमिट स्पीड से ज्यादा दौड़ाने पर3000 जुर्माना
मीडियम गुड्स और हैवी पैसेंजर वाहनों को निर्धारित गति से तेज चलाने पर6000 जुर्माना
ड्राइविंग करते वक्त मोबाइल या दूसरा उपकरण प्रयोग करने पर7000 जुर्माना
दूसरी बार या अगले तीन साल तक दोबारा यह गलती करने पर15000 जुर्माना

 यह भी पढ़ें: महिला कांस्टेबल को तस्कर ने कुचला: बाल-बाल बचे SHO- पुलिस टीम को रौंदने का प्रयास

सार्वजनिक स्थलों में तेज गति से वाहन चलाना या ट्रायल लेने पर- 7500 रुपए जुर्माना, दूसरी बार यही गलती करने पर- 15 हजार रुपए जुर्माना

बिना पंजीकरण वाहन को चलाने पर- 7500 रुपए जुर्माना, दूसरी बार गलती करने पर 15000 जुर्माना लगेगा

माल वाहनों का सामान बाहर लटकने या छत से ऊपर रखने पर- 30000 जुर्माना, इन माल वाहनों को जांच के लिए न रोकने और तोल न करवाने पर 60 हजार रुपए का जुर्माना किया जाएगा


यह भी पढ़ें: हिमाचल: आठ दिन जंगल में बेसुध पड़े रहने के बाद भी जिंदा बचा; आस छोड़ बैठे थे परिजन

Post a Comment

0 Comments