अब शिमला में फटा बादल: पुल व चार गाडियां बहीं, बाढ़ की चपेट में आए 14 में से 6 की बॉडी बरामद

Ticker

6/recent/ticker-posts

अब शिमला में फटा बादल: पुल व चार गाडियां बहीं, बाढ़ की चपेट में आए 14 में से 6 की बॉडी बरामद


शिमला।
हिमाचल प्रदेश में इंद्र देव ने विकराल रूप धारण कर रखा है। धर्मशाला में जल प्रलय, किन्नौर में पत्थरों बारिश, लाहुल और कुल्लू में बादलों का फाटना - इन सभी घटनाओं से सूबे का आम जनमानस अभी तक पूरी तरह से उबार भी नहीं सका है कि प्रदेश की राजधानी शिमला से एक दिल दहला देने वाली खबर सामने आ रही है। 

शिमला के गुम्‍मा में फटा बादल 

बतौर रिपोर्ट्स, शिमला की चिड़गांव तहसील के गुम्‍मा गांव में बुधवार सुबह बादल फटने से भारी नुकसान हुआ है। गांव के लिए बना पुल बाढ़ की चपेट में आकर बह गया है। बादल फटने के बाद खड्ड में आई बाढ़ में चार वाहन भी बह गए और डेढ़ दर्जन से ज्यादा वाहन गांव में ही फंस गए हैं। गुम्‍मा गांव को मुख्य सड़क से जोड़ने वाला पुल भी पूरी तरह से भरभरा गया है। इस कारण गांव में बसे 60 परिवारों के लोग पूरी तरह से क्षेत्र से कट गए हैं। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल में बारिश का तांडव: कार सवार परिवार पर गिरा मलबा, एक कार चट्टानों में दबी

इसी तरह से शिमला शहर में एक दर्जन से ज्यादा पेड़ गिर गए हैं। सीएम आवास से लेकर एडवांस स्टडी सहित कई जगह पर पेड़ गिरे हैं।हालांकि अधिकतर पेड़ जंगल या रास्ते में गिरे हैं, इससे किसी भवन या जानमाल का कोई ज्यादा नुकसान होने की सूचना नहीं है। शहर की अधिकतर सड़कें दिन में कई बार भूस्‍खलन होने से बाधित होती रहीं। कई स्थानों पर तो वाहनों की आवाजाही को भी वनवे करना पड़ा।

यह भी पढ़ें: हिमाचल: शराबी पति ने छीन ली 5 बच्चों की मां की जिंदगी, सबसे छोटी बच्‍ची अभी डेढ़ साल की है

बाढ़ की चपेट में आए 14 में से 6 शव बरामद

वहीं, दूसरी तरफ लाहुल स्पीति के तेजिंग नाला व मणिकर्ण घाटी की ब्रह्मगंगा में आई बाढ़ में लापता व्यक्तियों की संख्या 10 से बढ़कर 14 हो गई है। इसमें से चार शव बरामद कर लिए गए हैं। तेंजिंग नाला की बाढ़ की चपेट में आए 10 में से 6 के शव बरामद किए गए हैं, वहीं कुल्लू की मणिकर्ण घाटी की ब्रह्मगंगा नदी की चपेट में आए 4 लोगों का कोई सुराग नहीं मिल पा रहा है। युद्धस्तर पर सर्च ऑपरेशन जारी है। हालांकि, पहचान बाकी है। एक घायल को कुल्लू भेजा गया है। मंगलवार शाम को आए सैलाब में दो वाहन बहे हैं।

Post a Comment

0 Comments