हिमाचल में जारी है बारिश की तबाही: लगभग 7 की गई है जान, मां-बेटे समेत दर्जन भर लापता

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल में जारी है बारिश की तबाही: लगभग 7 की गई है जान, मां-बेटे समेत दर्जन भर लापता


शिमला।
हिमाचल प्रदेश में बीते कुछ दिनों से भारी बारिश का कहर जारी है। मौजूदा समय में सबसे भयावह स्थति जनजातीय जिले लाहुल स्पीति में बनी हुई है। जहां बादल फटने की वजह से नाले में आई बाढ़ ने जानलेवा रूप इख्तियार कर लिया है। सामने आई ताज अपडेट के अनुसार प्रदेश में मूसलाधार बारिश के कारण अचानक आई बाढ़ में कम से कम सात लोगों की मौत होने की आशंका है और नौ लोगों के लापता होने की सूचना मिली है। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: बारिश के बीच सवारियों से भरी HRTC बस सड़क से लुढकी, रह गई इस बात की गनीमत

प्रदेश भर में 14 लोग लापता हो गए हैं। लाहौल स्पीति के तोजिंग नाले में आई बाढ़ से 10 लोग लापता हो गए हैं। कुल्लू जिला में 25 वर्षीय महिला अपने चार वर्षीय बच्चे के साथ पार्वती नदी में बह गई है। इसके अलावा कुल्लू में दिल्ली की एक पर्यटक महिला और एक स्थानीय व्यक्ति भी लापता है। राज्य आपदा प्रबंधन निदेशक सुदेश कुमार मोख्ता ने बताया कि कुल्लू जिले में चार व्यक्तियों और चम्बा में एक व्यक्ति की मौत होने की आशंका है। 


यह भी पढ़ें: हिमाचल कांग्रेस का नेता कौन? राहुल गांधी से मिलने दिल्ली दरबार पहुंचे कौल-सुक्खू और आशा कुमारी

लाहुल-स्पीति में दो लोगों की मौत हो गई है। शिमला-कालका नेशनल हाइवे जगह-जगह भूस्खलन से बंद हो गया है। इस मार्ग पर वाहनों की आवाजाही ठप हो गई है। हमीरपुर की पटेरा पंचायत के पास सड़क पर बस पलट गई हालांकि सभी यात्री सुरक्षित बताए जा रहे हैं। मंगलवार रात से बुधवार सुबह आठ बजे तक प्रदेश में सबसे अधिक बारिश धर्मशाला में 101 मिलीमीटर रिकार्ड हुई। राजधानी शिमला में भी कई जगह भूस्खलन होने से गाड़ियां दब गई हैं। 

Post a Comment

0 Comments