हिमाचल में बारिश-भूस्खलन: सैकड़ों सड़कें बंद- कार पर गिरी चट्टानें, आवाजाही बंद, पर्यटक फंसे

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल में बारिश-भूस्खलन: सैकड़ों सड़कें बंद- कार पर गिरी चट्टानें, आवाजाही बंद, पर्यटक फंसे


शिमला।
हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश से नुकसान की खबरें आने लगी हैं। मंडी से कुल्लू जाने वाले दोनों रास्ते बंद हो गए हैं। प्रदेश में मानसून का असर साफ दिखाई दे रहा है। रविवार देर रात से मूसलाधार बारिश के कारण सामरिक महत्व वाले चंडीगढ़-मनाली एनएच का संपर्क पूरी तरह से कट गया है। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: भूस्खलन की चपेट में आई कार नदी में डूबी, पति-पत्नी व बेटा थे सवार- तीनों मरे

सात मील के पास भारी भूस्खलन से मार्ग बंद पड़ा है। पहाड़ियों से गिर रहे मलबे की चपेट में एक वाहन भी क्षतिग्रस्त हुआ है। गाड़ी में सवार सभी लोग सुरक्षित बताए जा रहे हैं। इस वाहन मे सभी सवार सुरक्षित बताए जा रहे हैं। मार्ग बंद होने के कारण दोनों तरफ वाहनों की कतारें लगी हुई हैं। वहीं वैकल्पिक कमांद -बजौर मार्ग भी ठप है। यहां पर पर्यटक फंस गए हैं। मनाली का मंडी से संपर्क कट गया है। इस कारण पर्यटक चंडीगढ़, पंजाब व दिल्‍ली वापस नहीं जा पा रहे हैं।

सरचू में ट्रक फंसने से मनाली लेह मार्ग अवरुद्ध

सरचू में ट्रक फंसने से मनाली-लेह मार्ग अवरुद्ध हो गया है। लेह की ओर से आ रहे वाहनों को लाहुल स्पीति पुलिस ने सरचू व मनाली से लेह जा रहे वाहनों को दारचा में रोक दिया है, जबकि कुछ एक वाहन दारचा व सरचू के बीच भी फंस गए हैं। कुल्लू मनाली सहित लाहुल स्पीति में भी बारिश हो रही है। ब्यास का जलस्तर लगातार बढ़ता जा रहा है, जिससे नदी किनारे रहने वाले लोगों की दिक्कत बढ़ गई है। 

ऊना: मिनी सचिवालय सहित महिला पुलिस थाना जलमगन हुआ 


जिला ऊना में बरसात के मौसम की दूसरी भारी बारिश ने सबकुछ जलमगन कर दिया है। जिला मुख्‍यालय में मिनी सचिवालय में पानी घुस गया है। ऊना के मिनी सचिवालय सहित अन्य सरकारी दफ्तर भी पानी की चपेट में आए हैं। महिला थाना ऊना में जल भराव से पूरे परिसर में पानी भर गया है। पानी को बाहर निकालने के लिए फायर ब्रिगेड की मदद ली जा रही है।

Post a Comment

0 Comments