हिमाचल: 'टिकटॉकर' बिटिया को बनाना था मॉडल- मां ने लगाई डांट तो पकड़ ली मुंबई की ट्रेन फिर...

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल: 'टिकटॉकर' बिटिया को बनाना था मॉडल- मां ने लगाई डांट तो पकड़ ली मुंबई की ट्रेन फिर...


कोटा/राजस्थान:
हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला की रहने वाली एक किशोरी को सोशल मीडिया पर वीडियो बनाने का शौक था। इस कारण उसकी मां उसे अक्सर डांटती थी। मां की डांट से नाराज होकर वह अपना घर छोड़कर निकल पड़ी। वह दिल्ली होती हुई मुंबई जा रही थी, लेकिन कोटा में जब वह रेलवे स्टेशन पर टिकट विंडो पर पहुंची, तब शक होने पर वहां के लोगों ने आरपीएफ को इसकी सूचना दी। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल में एक और कलयुगी मां की करतूत: कूड़े के ढेर में फेंका मिला नवजात

इसके बाद में बालिका को चाइल्ड लाइन भेज दिया गया। कोटा की बाल कल्याण समिति ने बालिका को अस्थाई आश्रय बालिका गृह में दिया है। बालिका को 14 जुलाई की रात को कोटा रेलवे स्टेशन की टिकट विंडो पर रेस्क्यू किया गया। बालिका मुंबई की तरफ जाने की बात कर रही थी, लेकिन कहां जाना है यह नहीं बता पा रही थी।

यह भी पढ़ें: राजा साहब के निधन के बाद बदलने लगी हवा: पूर्व मंत्री बाली ने CM पद पर ठोंका कांगड़ा का दावा

ऐसे में शक होने पर आरपीएफ टीम को बुलाया गया और पूछताछ में खुलासे के बाद किशोरी को चाइल्ड लाइन के सुपुर्द कर दिया गया। बालिका की उम्र 16 साल है। इसके बाद बालिका को बाल कल्याण समिति के सामने आज पेश किया गया। जहां से उसे बालिका गृह में अस्थाई आश्रय दिया गया है।

5000 लेकर निकली थी, 3500 रुपए खर्च भी हो गए

बालिका की उम्र 16 साल है। बालिका के पिता ने शिमला में उसकी गुमशुदगी का मुकदमा दर्ज कराया है। इसके साथ ही परिजन उसे लेने के लिए भी निकल गए हैं, जो कि शुक्रवार को पहुंचेंगे। बालिका की प्रारंभिक तौर पर काउंसलिंग की गई है। लड़की ने बताया कि वह इंस्टाग्राम पर वीडियो अपलोड करने और दोस्त बनाने की शौकीन है। इस पर उसकी मां उसे लगातार डांटती थी, साथ ही उसे मॉडलिंग का भी शौक है। ऐसे में उसने अपने घर को 13 जुलाई को छोड़ दिया। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल में फिर से तेज हुआ कोरोना: IGMC में बढ़ी मरीजों की संख्या, हमीरपुर DC के सख्त निर्देश

बालिका आठवीं कक्षा की परीक्षा दे चुकी है। शिमला से वह बस में बैठकर दिल्ली पहुंची, जहां स्टेशन पर ही पूरी रात बिताने की बात बताई। इसके बाद दिल्ली रेलवे स्टेशन से कोटा पहुंच गई। यहां से वह मुंबई की तरफ जाने वाली थी। बालिका अपने घर से 5000 रुपए लेकर निकली थी, जिनमें से 3500 रुपए खर्च भी हो गए हैं। 

Post a Comment

0 Comments