कंगना के गांव में बड़ा कांड: पूर्व उपप्रधान ने सुहागन बहू को बता दिया विधवा, BPL परिवार में डाला नाम

Ticker

6/recent/ticker-posts

कंगना के गांव में बड़ा कांड: पूर्व उपप्रधान ने सुहागन बहू को बता दिया विधवा, BPL परिवार में डाला नाम


मंडी।
बॉलीवुड अभिनेत्री आए दिन अपने बयानों की वजह से चर्चा में बनी रहती हैं लेकिन इस बार उनका गांव एक बड़े ही अनोखे मामले की वजह से चर्चा में आ गया है। 

दरअसल, मंडी जिले के सरकाघाट उपमंडल के तहत आने वाली ग्राम पंचायत भांबला के पूर्व उपप्रधान रत्न चंद ठाकुर पर अपनी सुहागन बहू को विधवा बताकर बीपीएल परिवार में शामिल कर के बड़ा ही गजब का खेल रचा है। बता दें कि कंगना रनौत भी भांबला गांव की ही रहने वाली हैं।

यह भी पढ़ें: जयराम कैबिनेट की अगली डेट आई सामने: इन मसलों पर होगा मंथन- जानें पूरी डीटेल

वहीं, पूर्व उपप्रधान द्वारा की गई इस करतूत का खुलासा खुद पंचायत की मौजूदा प्रधान सुनीता देवी ने किया है। पंचायत प्रधान सुनीता देवी और पूर्व उपप्रधान रत्न चंद ठाकुर के वाद विवाद का यह वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। वीडियो खुद प्रधान सुनीता देवी ने ही बनाया है। वीडियो में दोनों के बीच जमकर बहस हो रही है और दोनों एक-दूसरे पर खूब आरोप प्रत्यारोप लगा रहे हैं। 

पंचायत प्रधान ने बीडीओ को सौंपी शिकायत

इस बारे में सवाल किए जाने पर पंचायत प्रधान सुनीता देवी ने बताया कि पूर्व उपप्रधान रत्न चंद ठाकुर ने अपनी सुहागन बहू को विधवा बताकर गलत ढंग से बीपीएल परिवार में शामिल किया था। इसके सारे दस्तावेज पंचायत के पास मौजूद हैं। 

इन्हीं के आधार पर बीडीओ सरकाघाट को लिखित में शिकायत सौंप दी है और मामले की जांच की मांग की गई है। वहीं, दूसरी तरफ पंचायत के पूर्व उपप्रधान रत्न चंद ठाकुर ने उनपर लग रहे आरोपों को झूठा बताया है। 

यह भी पढ़ें: हिमाचली युवाओं को यहां मिल रही नौकरी: 100 से अधिक पदों पर होनी है भर्ती- जानें डीटेल

इस मसले पर पूर्व उपप्रधान का कहना है कि पंचायत प्रधान बेबुनियाद आरोप लगाकर उनकी छवि को खराब करने की कोशिश कर रही है। वो इस पूरे मामले पर कानूनी कार्रवाई करने जा रहे हैं। 

वहीं, बीडीओ सरकाघाट त्रिवेंद्रम चिनौरिया ने इस मसले पर बताया कि उन्हें पंचायत प्रधान सुनीता देवी की तरफ से शिकायत मिली है। शिकायत के आधार पर पंचायत सचिव से मामले पर सारा रिकॉर्ड डिटेल सहित मांगा गया है। जांच के बाद ही स्थिति पूरी तरह से स्पष्ट हो पाएगी।


Post a Comment

0 Comments