हिमाचलः सुबह के वक्त दो व्यक्तियों ने निगला जहर, पहुंचाया गया अस्पताल- नहीं बची जान

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचलः सुबह के वक्त दो व्यक्तियों ने निगला जहर, पहुंचाया गया अस्पताल- नहीं बची जान


ऊना/बिलासपुरः
हिमाचल प्रदेश में आत्महत्या के मामलों में काफी इजाफा देखने को मिला है। ताजा मामले प्रदेश के दो जिलों से रिपोर्ट हुए हैं। जहां जहरीला पदार्थ का सेवन करने के कारण एक 23 वर्षीय युवक व 53 वर्षीय शख्स की मौत हो गई। घटना की सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शवों को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए क्षेत्रीय अस्पताल भेज दिया है।

यह भी पढ़ें: हिमाचलः लड़की के पिता के पास आया फोन- आपकी बेटी मेरे पास, बहाने से गई थी बाहर

वहीं, पुलिस द्वारा दोनों मामलों के संबंध में केस दर्ज कर आगामी जांच अमल में लाई जा रही है। फिलहाल इस बात का पता नहीं चल पाया है कि दोनों व्यक्तियों ने जहरीले पदार्थ का सेवन क्यों किया। आईए एक-एक कर दोनों मामलों के बारे में जानते हैं।

24 वर्षीय युवक ने निगली जहरीली गोलियां, पीजीआई ले जाते वक्त तोड़ा दम-

पहला मामला प्रदेश के ऊना जिले का है। जहां बीते बुधवार को सुबह के समय एक युवक ने जहरीली दवा की दो गोलियों का सेवन कर लिया। युवक की तबीयत बिगड़ता देख परिजन उसे एंबुलेंस की मदद से स्वास्थ्य केंद्र ले गए। लेकिन हालत ज्यादा खराब होने के कारण उसे क्षेत्रीय अस्पताल इलाज के लिए भेजा गया। 

जहां मौजूद डॅाक्टरों ने उसे पीजीआई रेफर कर दिया। इस दौरान युवक ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। मृतक युवक की पहचान 24 वर्षीय शुभम जसवाल पुत्र राज कुमार निवासी अमलेहड़ के तौर पर हुई है। 

यह भी पढ़ें: हिमाचलः सड़क किनारे खड़े ट्रक से टकराई बाइक, मौके पर चालक की गई जान

53 वर्षीय शख्स की जहर का सेवन करने से गई जान- 

इसी कड़ी में दूसरा मामला प्रदेश के बिलासपुर जिले से सामने आया है। जहां एक 53 वर्षीय ज्ञानचंद निवासी बैरी-रजादयां ने बीते बुधवार सुबह किसी जहरीले पदार्थ का सेवन कर लिया। उक्त शख्स की तबीयत बिगड़ता देख परिजन उसे उपचार के लिए क्षेत्रीय अस्पताल लेकर पहुंचे। 

जहां ज्ञानचंद ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। इस मामले की पुष्टि करते हुए डीएसपी हेडक्वार्टर राजकुमार ने बताया कि मामले के संबंध में केस दर्ज कर आगामी  जांच की जा रही है।

Post a Comment

0 Comments