कौल सिंह ने की प्रतिभा सिंह को टिकट देने की पैरवी: CM जयराम को बता दिया अनुभवहीन

Ticker

6/recent/ticker-posts

कौल सिंह ने की प्रतिभा सिंह को टिकट देने की पैरवी: CM जयराम को बता दिया अनुभवहीन


मंडी।
हिमाचल प्रदेश में आगामी उपचुनाव को लेकर तैयारियां और राजनीतिक उथल-पुथल का दौर अपने चरम पर पहुंच गया है। वहीं, इन चुनावों में सबकी निगाह टिकी हुई है, मंडी लोकसभा सीट के उपचुनाव और राजपरिवार को मिलने वाले टिकट पर। दरअसल, राजा वीरभद्र सिंह के निधन के बाद से लगातार इस बात पर सबकी निगाह टिकी हुई हैं कि प्रतिभा सिंह किस सीट से चुनाव लड़ेगी- मंडी लोकसभा सीट से और राजा के निधन से खाली हुई अर्की विधानसभा सीट से। 

यह भी पढ़ें: अगस्त का महिना: 15 दिन बंद रहेंगे बैंक, जानिए किस-किस दिन है अवकाश? ये रही लिस्ट

वहीं, दूसरी तरफ सबकी निगाह में चुभी हुई सीट है- मंडी लोकसभा सीट, जिसे लेकर कांग्रेस की तरफ से काफी असमंजस की स्थिति बनी हुई है। दरअसल कुछ दिन पहले प्रतिभा सिंह का मंडी से चुनाव लड़ने को लेकर कहा था कि मंडी संसदीय क्षेत्र से उपचुनाव लड़ने को लेकर उन्होंने कोई विचार नहीं किया है। वह लोगों से भी इस बारे में राय जानेंगी। 

यह भी पढ़ें: माता चिंतपूर्णी के दर्शन को जा रहे श्रद्धालुओं को टिप्पर ने रौंदा, एक नहीं बच, 1 पहुंचा अस्पताल

वहीं, आज कांग्रेस के कद्दावर नेता और पूर्व मंत्री कौल सिंह ठाकुर का एक बड़ा बयान सामने आया है। दरअसल, कौल सिंह ने मंडी लोकसभा सीट से प्रतिभा सिंह को टिकट देने की पैरवी की है। उन्होंने कहा कि प्रतिभा सिंह सबसे बेहतरीन प्रत्याशी साबित होंगी और दिवंग्त सीएम वीरभद्र सिंह द्वारा किए गए कार्यों का उन्हें वोट के रूप में लाभ मिलेगा। उन्होंने फिर स्पष्ट किया कि वे उपचुनाव लड़ने के पक्ष में नहीं हैं लेकिन पार्टी हाईकमान आदेश करे तो फिर वे पीछे नहीं हटेंगे।

यह भी पढ़ें: हिमाचल: सड़क से लुढ़क नाले में जा गिरी ऑल्टो कार, पटवारी की चली गई जान

मंडी में आयोजित पत्रकार वार्ता में उन्होंने सीएम जयराम ठाकुर को अनुभवहीन बताते हुए महेंद्र सिंह ठाकुर को सुपर सीएम नोटिफाई करने का तंज कसा। उन्होंने कहा कि उपचुनावों को लेकर सीएम आधे-अधूरे विकास कार्यों के उदघाटन कर रहे हैं जो उनकी अनुभवहीनता को दर्शाता है। वहीं महेंद्र सिंह ठाकुर इस वक्त सुपर सीएम बनकर सरकार चला रहे हैं। उन्होंने जयराम ठाकुर को भ्रष्टाचार करना और झूठ बोलना सीखा दिया है।

Post a Comment

0 Comments