हिमाचल के साधू ने 5000 के लिए त्रिशूल से ले ली महंत की जान; उधार के लिए हुआ था बवाल

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल के साधू ने 5000 के लिए त्रिशूल से ले ली महंत की जान; उधार के लिए हुआ था बवाल


पलवल/शिमला। हिमाचल प्रदेश के रहने वाले एक साधू ने हरियाणा के पलवल में 5 हजार रूपए के लिए त्रिशूल से महंत की हत्या कर दी। पुलिस ने आरोप को 12 घंटे के भीतर गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी ने पूछताछ में अपना नाम पता शत्रुध्यास निवासी हिमाचल बताया है। पुलिस ने आरोपी के कब्जे से हत्या में प्रयोग त्रिशूल बरामद कर लिया है। आरोपी को अदालत में पेश कर पूछताछ के लिए पुलिस रिमांड पर ले लिया गया है। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल में पहाड़ी से बह रहा दूध जैसा तरल पदार्थ: उमड़ पड़ी भक्तों की आस्था, शुरू हुई पूजा-अर्चना

आरोपी ने कबूल किया है कि उसने उधार दिए महज पांच हजार रुपये के लिए उसकी हत्या कर दी थी। पुलिस द्वारा इस मामले के सम्बन्ध में जानकारी देते हुए बताया गया कि 18-19 अगस्त की रात को कोडला मंदिर के महंत चरणगिरी की हत्या कर दी गई। उसके शव को जलाने का प्रयास किया गया था। मामले का पता चलने के बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश शुरू कर दी थी। 

यह भी पढ़ें: निगुलसरी में फिर दरका पहाड़: सूबे में बारिश शुरू हुई- पांच जिलों में बाढ़ का खतरा!

इस बीच उन्हें मुखबिर से सूचना मिली कि महंत की हत्या करने वाला आरोपी वृंदावन (मथुरा) में मौजूद है जो कि कहीं बाहर जाने की फिराक में है। सूचना मिलते ही टीम गठित कर मौके पर दबिश दी गई और आरोपी को पकड़ लिया। पूछताछ में आरोपी ने अपना नाम शत्रुध्यास निवासी हिमाचल बताया है। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: धुंध के कारण NH से लुढकी कार खाई में जा समाई- तीन थे सवार, महिला का टूटा दम

पुलिस द्वारा की गई पूछताछ में आरोपी ने बताया कि कोडला मंदिर पर उसका आना-जाना था। बाबा चरणगिरी महाराज पर उसके पांच हजार रूपए उधार थे। जिन्हें वह काफी दिनों से मांग रहा था। इसी बात को लेकर दोनों के बीच झगड़ा हो गया और आरोपी ने त्रिशूल से हमला कर चरणगिरी की हत्या कर दी। उसके बाद त्रिशूल को मंदिर के पास ही फेंक कर फरार हो गया। फिलहाल आरोपी को अदालत में पेश कर तीन दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है।

Post a Comment

0 Comments