'कुलदीप राठौर के पास अध्यक्ष बनने के पहले कुछ नहीं था, मगर अब दो-दो नई गाडिय़ां हैं'

Ticker

6/recent/ticker-posts

'कुलदीप राठौर के पास अध्यक्ष बनने के पहले कुछ नहीं था, मगर अब दो-दो नई गाडिय़ां हैं'


शिमला।
पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह के निधन के बाद से हिमाचल प्रदेश कांग्रेस का बुरा हाल है। एक तरफ जहां बार बार पार्टी के भीतर की गुटबाजी उभर कर सामने आ रही है। वहीं, लगातार फूट रहे पत्र बमों ने भी सूबे में भीतर पार्टी की साख पर करार प्रहार किया है। इसी कड़ी में एक और नया पत्र बम सामने आया है, जिसमें हिमाचल प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप राठौर को निशाने पर रखा गया है। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल में नहीं थम रहा कोरोना: आज 4 की गई जान, 2700 के करीब पहुंचे एक्टिव केस

कांग्रेस पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को भेजे गए इस पत्र में स्पष्ट तौर पर लिखा गया है कि वीरभद्र सिंह के निधन के बाद कांग्रेस में असमंजस की स्थिति पैदा हो गई है और सभी कार्यकर्ता इस वक्त सकते में हैं। एक सशक्त नेतृत्व की मांग यहां पर की जा रही है। 

इसमें आरोप लगाया गया है कि कांग्रेस के वर्तमान अध्यक्ष के नेतृत्व में हुए किसी भी चुनाव में पार्टी को बढ़त नहीं मिली, क्योंकि कोई भी नेता उनके साथ चलने को तैयार नहीं है। इनके पास अध्यक्ष बनने के पहले कुछ नहीं था, मगर अब दो-दो नई गाडिय़ां उनके पास हैं। इसके अलावा भी संपत्ति अर्जित करने के कथित आरोप लगाए गए हैं।

यह भी पढ़ें: अफगानिस्तान में फंसे हिमाचल के नवीन और राहुल: HPU में पढ़ रहे अफगानी छात्र भी हैं चिंतित

पत्र में आरोप लगाया गया है कि इतनी अधिक संपत्ति रातों-रात कहां से अर्जित कर ली गई, इसकी जांच होनी चाहिए। इसमें कहा गया है कि नेतृत्व परिवर्तन हिमाचल में कांग्रेस के लिए बेहद जरूरी है। राहुल गांधी को भेजे गए इस पत्र में कुछ लोगों के नाम हैं, मगर उनके पते दर्ज नहीं हैं। 

ये पत्र उन नेताओं ने जारी किया भी है या नहीं, इसका कोई सबूत नहीं है। पार्टी अध्यक्ष पद पर बदलाव को लेकर इसमें कुछ नाम सुझाए गए हैं, जिसमें रामलाल ठाकुर, आशा कुमारी, हषर्वधन चौहान का जिक्र किया गया है, वहीं विधायक दल के नेता के रूप में नंद लाल, कर्नल धनीराम शांडिल या फिर सुखविंदर सिंह सुक्खू का नाम सुझाया है। इस पद पर भी बदलाव की मांग उठाई है। 

Post a Comment

0 Comments