खालिस्तानी आतंकियों पर पक्ष-विपक्ष एकजुट: मंत्रियों के साथ झंडा फहराएंगे कांग्रेस विधायक

Ticker

6/recent/ticker-posts

खालिस्तानी आतंकियों पर पक्ष-विपक्ष एकजुट: मंत्रियों के साथ झंडा फहराएंगे कांग्रेस विधायक

शिमला: खालीस्तान समर्थक गुरूपतपंत सिंह पन्नू की धमकी का मामला मंगलवार को हिमाचल विधानसभा में उठा। सतापक्ष एवं विपक्ष ने तिरंगा न फहराने की धमकी मिलने के आडियो संदेशों की कड़ी भर्त्सना की और ऐसी हरकत करने वाले आरोपियों पर सख्त करवाई करने की जरूरत बताई। 

अमेरिका-कनाडा से आ रही धमकियां:

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने सदन को बताया कि इस संबंध में कार्रवाई की जा रही है। ऐसी धमकियों से घबराने की जरूरत नहीं है। तिरंगे के लिए जान न्योछावर करने को तैयार हैं। 


इस सारे मामले को लेकर और रॉ और इंटेलिजेंस ब्यूरो को भी सूचित कर दिया गया है। उन्होंने सदन को जानकारी दी कि यह धमकियां अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा और ब्रिटेन से आ रही हैं।

मुकेश अग्निहोत्री बोले- ऐसी कोरी धमकियों से घबराने की जरूरत नहीं:

विपक्षी नेता मुकेश अग्निहोत्री ने कहा ऐसी कोरी धमकियों से घबराने की जरूरत नहीं है। सिर कटा सकते हैं पर सिर झुका सकते नहीं। इस मसले पर विपक्ष सरकार के साथ है और 15 अगस्त को प्रदेश के जिन जिन जिलों में जहां-जहां मंत्री झंडा फहराएंगे वहां पर कांग्रेस विधायक उपस्थित रहेंगे। 

हिमाचल शांतिप्रिय प्रदेश है और अखंड भारत का हिस्सा है अस्थिरता पैदा करने वालों को बख्शा नहीं जाना चाहिए और उन्हें विदेशों से लाकर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की।

मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि 30 सालों के कानूनों को लेकर सत्ता पक्ष और विपक्ष दोनों अलग-अलग विचार रखते हैं। बावजूद इसके धमकियां कांग्रेस विधायकों को आई हैं। 


उन्होंने कहा मेरे अलावा आशा कुमारी, सुखविंदर सिंह सुक्खू, नंदलाल ठाकुर, विक्रमादित्य सिंह, लखविंदर राणा को भी विदेश से कॉल पर धमकी दी गई हैं। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि हर घर में स्वतंत्रता दिवस पर झंडा फहरा कर देशद्रोहियों को जबाव दें।

Post a Comment

0 Comments