किन्नौर भूस्खलन के सातवें दिन पूरा हुआ सर्च ऑपरेशन: कुल 28 लोगों की देह हुई बरामद

Ticker

6/recent/ticker-posts

किन्नौर भूस्खलन के सातवें दिन पूरा हुआ सर्च ऑपरेशन: कुल 28 लोगों की देह हुई बरामद


शिमला।
हिमाचल प्रदेश के जनजातीय जिले किन्नौर के निगुलसरी में हुए भूस्खलन की घटना के 7वीं दिन आज जाकर यहां पर जारी सर्च ऑपरेशन थम गया है। बतौर रिपोर्ट्स, मंगलवार को सुबह चार बजे अभियान शुरू किया गया। बचाव दल को लापता तीनों लोगों के शव बरामद हो गए हैं। इस हादसे में कुल मिलाकर 28 लोगों की मौत हुई है। सभी शवों की बरामदगी के बाद प्रशासन की तरफ से अब सर्च ऑपरेशन समाप्‍त करने की घोषणा कर दी जाएगी।

यह भी पढ़ें: हिमाचल: पेड़ पर चढ़ा था 68 वर्षीय रिटायर्ड शख्स, फिसल कर गिरा- टूटा दम

बता दें कि बचाव कर्मियों को सोमवार को मलबे के बीच दो और शव मिले थे। इनकी पहचान मेहर चंद पुत्र जीतराम गांव टिक्करी, डाकघर खरगा तहसील निरमंड जिला कुल्लू और ज्वाला देवी पत्नी उमेश कुमार, गांव बरी तहसील निचार जिला किन्नौर के रूप में हुई है।कुल मिलाकर निगुलसारी हादसे में 28 लोगों की जान गई है, जबकि 13 लोगों को गम्भीर चोटें लगी थी, जिनका उपचार जिला किन्नौर, रामपुर के खनेरी चिकित्सालय में चला हुआ है।

यह भी पढ़ें: 'कुलदीप राठौर के पास अध्यक्ष बनने के पहले कुछ नहीं था, मगर अब दो-दो नई गाडिय़ां हैं'

सर्च आपरेशन में सेना व एनडीआरएफ के अलावा हिमाचल पुलिस व गृहरक्षक भी जुटे थे। जवान जान जोखिम में डालकर गहरी खाई में रस्सी के सहारे उतर रहे थे। जिला प्रशासन किन्नौर की आपदा प्रबंधन टीम में गृहरक्षक भी शामिल रही। जहां से बस मलबे के साथ नीचे गिरी थी, वहां से नीचे भी जवानों ने भी सर्च आपरेशन चलाया और सभी लापता लोगों को तलाश लिया। सोमवार को निकाले गए दो शवों का सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भावानगर में पोस्टमार्टम कर स्वजनों को सौंप दिया है।

Post a Comment

0 Comments