हिमाचल के लाल ने दो आतंकियों को ढेर कर दी थी शाहदत: एक साल बाद मरणोपरांत सेना मेडल

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल के लाल ने दो आतंकियों को ढेर कर दी थी शाहदत: एक साल बाद मरणोपरांत सेना मेडल


सिरमौर।
केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर के बारामुला में आज से साल भर पहले 18 अगस्त को हुई आतंकी मुठभेड़ में हिमाचल का जवान शहीद हो गया था। सिरमौर जिले की ददाहू तहसील के ठाक्कर गवाना गांव के प्रशांत ठाकुर दो आतंकियों को ढेर करने के बाद शहीद हुए थे। 24 साल की उम्र में शहादत पाने वाले प्रशांत पांच साल पहले सेना की 18 जीडीआर कंपनी में बतौर सिपाही भर्ती हुए थे। सबके लाडले प्रशांत परिवार में सबसे छोटे थे। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल सावधान: आज से 10 जिलों में बारिश का येलो अलर्ट- तीन दिन तक रहेगी जारी

वहीं, अब ठीक एक साल बाद शहीद लाल को मरणोपरांत सेना मेडल से अलंकृत करने का ऐलान हुआ है। हालांकि आजादी की 75वीं वर्षगांठ पर ये फैसला दिल्ली में हो गया था, लेकिन परिवार को इसकी जानकारी एक दिन बाद यूनिट के जरिए हासिल हुई। बता दें कि शहीद के दादा स्वर्गीय नरोत्तम सिंह भी एसएसबी में थे। प्रशांत के बड़े भाई विशाल ठाकुर घर पर ही अपने पिता के साथ खेतीबाड़ी मे उनका हाथ बंटाते हैं। 

यह भी पढ़ें: कंगना के गांव में बड़ा कांड: पूर्व उपप्रधान ने सुहागन बहू को बता दिया विधवा, BPL परिवार में डाला नाम

23 सितंबर 2014 को 18 साल की उम्र में भारतीय सेना में भर्ती  प्रशांत ठाकुर ने शहादत से पहले 6 साल तक कई मर्तबा जांबाजी दिखाई, मगर असल परीक्षा 17-18 अगस्त 2020 को उस समय सामने आई, जब बारामुला के घने जंगलों में सेना को आतंकवादियों के छिपे होने की सूचना मिली। आतंकियों से सीधी मुठभेड़ में प्रशांत ठाकुर ने हार नहीं मानी। गोली लगने के बावजूद भी मुकाबला करते रहे। 29 आरआर में तैनात शहीद प्रशांत ठाकुर की तलाश की जाती रही। 

यह भी पढ़ें: जयराम कैबिनेट की अगली डेट आई सामने: इन मसलों पर होगा मंथन- जानें पूरी डीटेल

बताया ये भी गया था कि शहीद होने के बाद भी प्रशांत की पार्थिव देह ने भी बहादुरी का परिचय दिया था। पार्थिव देह से भी आतंकी डरते रहे थे। इसी कारण पार्थिव देह को जंगल से मुठभेड़ बंद होने के बाद निकाला गया था। घर पर मां रेखा देवी व पिता सुरजन सिंह ने प्रशांत के सिर सेहरा बांधने के सपने  संजोए थे। लेकिन इसके पहले ही उनका लाल देश के इश्क में शहादत को प्राप्त कर गया। 

Post a Comment

0 Comments