नाले में फेंकी जुड़वा बच्चियों के मामले में बड़ा खुलासा: CCTV से पता चला कैसे गई थी उनकी जान

Ticker

6/recent/ticker-posts

नाले में फेंकी जुड़वा बच्चियों के मामले में बड़ा खुलासा: CCTV से पता चला कैसे गई थी उनकी जान


मंडी।
हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले में कलियुगी मां द्वारा जुड़वा नवजात बच्चियों को नाले में फेंकने के मामले में नया और बड़ा खुलासा हुआ है। दरअसल, सीसीटीवी कैमरे की फुटेज ने इस मामले में कई राज खोले हैं। मामले की जांच के दौरान इस बात का पता चला है कि आरोपी महिला ने सकोड़ी खड्ड पुल के नीचे बच्चियां जिंदा ही छोड़ी थीं। 

जानें कैसे गई बच्चियों की जान 

बतौर रिपोर्ट्स, बच्चियों की मौत शुक्रवार रात को भूख-प्यास, बारिश, ठंड और पानी में गिरने से हुई है। हालांकि पुलिस अधिकारी इस पर कुछ नहीं कह रहे हैं। वे पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं।

सीसीटीवी कैमरे की फुटेज में क्या आया नजर 

महिला 17 सितंबर की रात हिमाचल पथ परिवहन निगम (एचआरटीसी) की बस से कांगड़ा से मंडी पहुंची थी। यहां से आटोरिक्शा से सुहड़ा मोहल्ला की ओर आई। पुलिस ने सीसीटीवी कैमरा फुटेज में संबंधित आटोरिक्शा चालक का पता लगाकर उसका बयान भी कलमबद्ध किया है। जिस स्थान पर बच्चियों के शव मिले हैं सीसीटीवी कैमरा फुटेज में उक्त स्थान पर महिला नजर आ रही है। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: बच्ची को थी कच्चे चावल फांकने की आदत, हुआ कुछ ऐसा कि चली गई जान

ऐसे में साफ है कि महिला आटोरिक्शा से उतरने के बाद बच्चियों को सकोड़ी खड्ड किनारे छोडऩे के बाद घर गई थी। सीसीटीवी कैमरा फुटेज में वहां किसी और की उपस्थिति नहीं दिखी है। माना जा रहा है कि अगर यह वाकया सुबह के समय हुआ होता तो इन बच्चियों पर किसी न किसी की नजर पड़ जानी थी, जिससे इनकी जान बच सकती थी। 

बच्चियों को गोद देना चाहती थी महिला 

इस मामले को लेकर बताया यह भी जा रहा है कि महिला की मंशा बच्चियों को किसी को गोद देने की थी, इसलिए वह कांगड़ा से होकर मंडी पहुंची। लेकिन कांगड़ा में वह व्यक्ति में नहीं मिला, इसलिए बच्चियों को लेकर वह चली गई। 

आरोपित बीमार अस्पताल में भर्ती

आरोपित महिला पुलिस रिमांड के दौरान बीमार हो गई है। पुलिस ने उसे अस्पताल में भर्ती करवाया है। महिला के शरीर में खून की कमी बताई जा रही है। ऐसे में पुलिस महिला से पूछताछ भी नहीं कर पा रही है।

Post a Comment

0 Comments