हिमाचल में स्कूल खोलने को लेकर शिक्षा विभाग ने बनाया प्रस्ताव, शिक्षा मंत्री ने भी दिया बड़ा बयान

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल में स्कूल खोलने को लेकर शिक्षा विभाग ने बनाया प्रस्ताव, शिक्षा मंत्री ने भी दिया बड़ा बयान


शिमलाः
हिमाचल प्रदेश में बच्चों के अभिभावकों द्वारा बार-बार स्कूल खोलने की मांग उठाई जा रही है। लेकिन कोरोना के बढ़ते मामलों की वजह से फिलहाल स्कूलों को बंद रखा गया है। वहीं, प्रदेश में हर घर पाठशाला के तहत ऑनलाइन माध्यम से पढाई चल रही है। साथ ही बच्चों को व्हाट्सएप के जरिए नोट्स भी उपलब्ध करवाए जा रहे हैं। ताकि बच्चों की पढ़ाई पर कोई असर ना पड़े। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: अस्थि विसर्जित करने जा रहे परिवार की गाड़ी भिड़ी, महिला की गई जान- 3 और थे सवार

इस बीच शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने शिमला में पत्रकारों के साथ हुई अनऔपचारिक बातचीत के दौरान बताया कि कोरोना के मामलों में यदि कमी आती है तो 14 सितंबर के बाद स्कूलों को खोलने पर विचार किया जाएगा। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि बच्चों की पढ़ाई ऑनलाइन माध्यम से चल ही रही है। शिक्षक बच्चों को व्हाटसएप के माध्यम से नोट्स भी प्रोवाइड करवा रहे हैं। 

कोरोना मामलों में आती है कमी तो खुलेंगे स्कूल-

उन्होंने कहा कि शारीरिक रूप से पढ़ाई का एक अलग ही महत्व है लेकिन कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए स्कूलों को बंद किया गया है। यदि मामलों में कमी आती है तो स्कूलों को खोलने पर विचार किया जाएगा। 

यह भी पढ़ें: हिमाचलः घर का 18 वर्षीय बेटा झील में डूब गया, निकालकर अस्पताल ले गए पर नहीं बचा

उन्होंने बताया कि शिक्षा विभाग की ओर से स्कूल खोले जाने को लेकर प्रस्ताव तैयार कर सरकार को भेज दिया है। वहीं, इस मसले पर शिक्षा निदेशक डॉ. अमरजीत कुमार शर्मा ने बताया कि प्रदेश में बोर्डिंग स्कूल खोले गए हैं। 

बोर्डिंग स्कूल में एसओपी पर लगेंगी कक्षाएं-

स्कलों को 9वीं से 12वीं तक की  कक्षाएं एसओपी के साथ लगाने को कहा गया है और ये स्कूल कक्षाएं लगा भी रहे हैं। उन्होंने बताया कि बोर्डंग स्कूल 5वीं से 9वीं कक्षा के छात्रों को एसओपी के तहत स्कूल परिसर में बुला भी सकते हैं और कक्षाएं भी ले सकते हैं। सरकार की ओर से इन स्कूलों को स्पष्ट निर्देश दिए गए हैं।

Post a Comment

0 Comments