हिमाचलः फसल बचाने को लगाया था करंट- जानवर तो नहीं मरा पर युवक की जान चली गई

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचलः फसल बचाने को लगाया था करंट- जानवर तो नहीं मरा पर युवक की जान चली गई


कांगड़ाः
हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले स्थित इंदौरा के अंतर्गत आते गांव मलकाणा से एक बड़ी दुखद खबर सामने आ रही है। जहां लोगों द्वारा जंगली जानवरों से अपनी फसल को बचाने के लिए खेत में लगाए करंट की चपेट में आने से एक युवक की मौत हो गई। 

यह भी पढ़ें: हिमाचलः 2 मिनट के लिए स्कूटी पार्क करने पर 1500 रूपए का चालान, सडकों पर उतरे लोग

वहीं, घटना की सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। इसके साथ ही घटना के संबंध में मामला दर्ज कर आगामी जांच की जा रही है। 

कई गांव के लोगों ने खेत में दौड़ा रखा है करंट 

मृतक युवक की पहचान हैप्पी सिंह निवासी मोहली, डाकघर हटली तहसील फतेहपुर के तौर पर हुई है। मिली जानकारी के मुताबिक इंदौरा के घंडरां, मलाहरी, सुरड्वा, घगवां, प्लाखि, स्नोर आदि गांवों में जगंली जानवरों के शिकार के लिए खेतों में करंट लगाया जाता है। 

यह भी पढ़ें: हिमाचलः तालाब में पड़ा मिला शख्स- फटे थे कपड़े, नाक से बहता खून; सफ़ेद पड़ गई थी बॉडी

इस करंट के चलते कई जगंली जानवरों को अपनी जान से हाथ धोड़ा पड़ा है। लेकिन इस बीच रात को एक युवक भी इस करंट की चपेट में आ गया। इस मामले की पुष्टि एएसआई पुलिस थाना ठाकुरद्वारा मनोहर लाल ने की है। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल में प्रकृति का कोप: आसमानी बिजली से 18 जानवर मरे, भूस्खलन से सड़क पर गिरा बड़ा पत्थर

वहीं, इस मामले पर अधिशाषी अभियंता विद्युत विभाग फतेहपुर कुष्ण देव शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि यह मामला अभी ध्यान में आया है। वह आज ही स्टाफ को इसका निरीक्षण करने के आदेश जारी करेंगे। उन्होंने कहा कि इस तरह बिजली का करंट किसी भी खेत में दिखा तो उसका घर और मीटर का कनेक्शन तुरंत काट दिया जाएगा।

Post a Comment

0 Comments