हिमाचल: जंगल में गया मुख्य अध्यापक और लगा लिया फंदा- जेब से बरामद हुआ आखिरी ख़त

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल: जंगल में गया मुख्य अध्यापक और लगा लिया फंदा- जेब से बरामद हुआ आखिरी ख़त


कांगड़ा।
हिमाचल प्रदेश में आए दिन पेश आने वाले आत्महत्या के मामलों के बीच ताजा अपडेट सूबे के कांगड़ा जिले से सामने आई है। जहां पर उपमंडल बैजनाथ में एक स्कूल के मुख्याध्यापक ने जंगल में फंदा लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। 

पुलिस द्वारा इस सम्बन्ध में जानकारी देते हुए बताया गया कि मृतक की जेब से एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है, जिसमें उन्होंने किसी परेशानी का जिक्र किया है। 

यह भी पढ़ें: देवभूमि शर्मसार: किशोरी के साथ 4 युवकों ने पार की हैवानियत की सब हदें, वीडियो के बल पर लूटी इज्जत

जान गंवाने वाले शिक्षक की उम्र 49 वर्ष बताई जा रही है, जिनका नाम राकेश कुमार पुत्र मस्त राम था। मृतक शिक्षक वार्ड नंबर-3 बैजनाथ में रहते थे और राजकीय उच्च विद्यालय हरेड़ में बतौर मुख्याध्यापक सेवाएं दे रहे थे।

बताया गया कि राकेश कुमार शनिवार को भी स्कूल में गए थे लेकिन जब शाम को घर नहीं लौटे तो परिजनों ने उनकी तलाश शुरू की। शाम को परिजनों ने पुलिस में भी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई।

यह भी पढ़ें: हिमाचल: महिला डॉक्टर से लाखों की ठगी, भारत छोड़ विदेश में करना चाहती थी नौकरी

वहीं, जब पुलिस ने मोबाइल लोकेशन के आधार पर जब उनकी तलाश की तो बैजनाथ के पंडोल रोड के दनबाड़ी जंगल में राकेश कुमार को फंदे से लटके हुए पाया। पुलिस ने मौके पर साक्ष्य जुटा कर शव कब्जे में ले लिया। शव का मुआयना करने पर सिवाय गर्दन में रस्सी के निशान के अलावा किसी प्रकार की चोट के कोई निशान नहीं मिले हैं। 

यह भी पढ़ें: केंद्र ने किया हिमाचल को अलर्ट: बताया कब आ रही है कोरोना महामारी की तीसरी लहर, तैयारी शुरू

पुलिस ने सिविल अस्पताल में पोस्टमार्टम करवाने के बाद शव परिजनों को सौंप दिया है। उधर, डीएसपी बैजनाथ बीडी भाटिया ने बताया कि सुसाइड नोट में मृतक ने स्कूल के किसी कार्य से परेशान होने का उल्लेख किया है, जिस कारण वह मानसिक परेशानी से गुजर रहा था और आत्महत्या कर ली। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Post a Comment

0 Comments