हिमाचल: कोरोना से दिवंगत हो चुके शिक्षक का हो रहा प्रोमोशन, अन्य कर्मी भुगत रहे खामियाजा

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल: कोरोना से दिवंगत हो चुके शिक्षक का हो रहा प्रोमोशन, अन्य कर्मी भुगत रहे खामियाजा


शिमला:
हिमाचल प्रदेश सरकार के उच्च शिक्षा विभाग को अपने कर्मचारियों की सही जानकारी उपलब्ध नहीं है। नतीजतन कोरोना से जान गंवा चुके कर्मियों से भी प्रोमोशन की जानकारी मांगी जा रही है।

कोरोना से गंवा चुके हैं जान:

बता दें कि बैजनाथ उपमंडल के नोहरा गांव के नरेश सरोच (52 वर्ष) कांगड़ा जिले की राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला संघोल में फिजिक्स विषय के प्रवक्ता थे।

इनका निधन कोरोना महामारी से 15 मई, 2021 को आयुर्वेदिक संस्थान पपरोला के कोविड केयर सेंटर में हो चुका है।

यह भी पढ़ें: हिमाचल: रॉन्ग नंबर कॉल से हुई दोस्ती फिर बैंक कर्मी ने देवभूमि में घुमा-घुमाकर लूटी इज्जत, अब हुई प्रेग्नेंट

उच्च शिक्षा विभाग ने गत जुलाई और अगस्त में दो बार हेड मास्टर के तौर पर पदोन्नति के लिए स्वर्गीय नरेश सरोच से एसीआर की मांग की है। 

अन्य प्रवक्ता को भुगतना होगा खामियाजा:

इस प्रकार सूची से उनका नाम डिलीट न किए जाने पर आगामी कुछ दिनों के बाद जारी होने वाली पदोन्नति सूची के हिसाब से नरेश सरोच किसी स्कूल में हेड मास्टर के पद पर नियुक्त हो जाएंगे।

यह भी पढ़ें: हिमाचल में दर्जी की घटिया हरकत: कपड़े बदल रही लड़की का MMS बनाकर किया वायरल, अरेस्ट

यही नहीं, पदोन्नति की इस प्रकार जारी होने वाली सूची के हिसाब से एक प्रवक्ता पदोन्नति से वंचित रह जाएगा।

विभाग ने दी ये दलील:

उच्च शिक्षा विभाग से संबंधित लोगों का कहना है कि उच्च शिक्षा निदेशालय की गलतियों के कारण अनेक कर्मचारियों को लाभों से वंचित होना पड़ रहा है।

यह भी पढ़ें: हिमाचल: 4 चार जिलों में बाढ़ के अलर्ट के बीच- तबाही जारी, बस फंसी, मकान में दरारें; गाडियां तबाह

उधर, इस संबंध में उच्च शिक्षा विभाग की उपनिदेशक रेखा कपूर ने बताया कि इस संबंध में शिमला स्थित कार्यालय को जानकारी दी गई है। उन्होंने बताया कि मामले की जानकारी एक बार फिर से निदेशालय को दी जाएगी। 

Post a Comment

0 Comments