HRTC कंडक्टर बना ईमानदारी की मिसाल: नकद-ATM और कागजातों वालों पर्स लौटाया

Ticker

6/recent/ticker-posts

adv

HRTC कंडक्टर बना ईमानदारी की मिसाल: नकद-ATM और कागजातों वालों पर्स लौटाया


हमीरपुरः
हमें बचपन से यह सिखाया जाता है कि ईमानदारी सबसे अच्छी नीति है। इस वाक्य को सही साबित किया है HRTC हमीरपुर डिपो के परिचालक सुमेश ने। बता दें कि हमीरपुर के सार्वजनिक कार्यकर्ता, लेखक एवं प्रेक्षक रमेश भारद्वाज उर्फ रमेश चन्द का पर्स  HRTC हमीरपुर डिपो की बस में सफर करते समय रह गया था। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल से सेब लेकर जा रहा पिकअप वाहन सड़क से पलटा, 12 वर्षीय लड़की समेत 4 थे सवार

जिसे परिचालक सुमेश द्वारा बीते कल उक्त शख्स को वापस लौटा दिया गया। मिली जानकारी के मुताबिक पर्स में कुछ नकद राशि, एटीएम, आरसी व अन्य आवश्यक कार्ड मौजूद थे। वहीं, पर्स मिलने पर रमेश भारद्वाज ने उक्त परिचालक की ईमानदारी की सराहना करते हुए इस बात की जानकारी एचआरटीसी के अधिकारियों व उनकी पंचायत को दी।

यह भी पढ़ें: हिमाचल में एक और शख्स पंखे से झूला: माता-पिता के निधन के बाद छोड़ गई थी पत्नी

ताकि परिचालक सुमेश को प्रशस्ति पत्र दिया जाए। उनका कहना है कि इससे अन्य कर्मचारियों को भी प्रेरणा मिलेगी और परिचालक सुमेश की ईमानदारी के बारे में सभी को पता भी चलेगा।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ