हिमाचल: तो क्या चली जाएगी 56 जूनियर इंजीनयरों की नौकरी- लटकी तलवार, पढ़ें डीटेल

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल: तो क्या चली जाएगी 56 जूनियर इंजीनयरों की नौकरी- लटकी तलवार, पढ़ें डीटेल


हमीरपुर:
लोक निर्माण विभाग 56 जेई की नौकरियों पर खतरे की तलवार लटक रही है। विभाग भी असमंजस में है कि इनकी सेवा जारी रखी जाए या रद्द की जाए।

बीटेक डिग्री वाले कोर्ट चले गए:

दरअसल, पिछले दिनों कर्मचारी चयन आयोग ने लोक निर्माण विभाग में 123 जेई के पद हेतु आवेदन मांगे थे। जिसमें बीटेक डिग्रीधारी को मान्यता नहीं दी गई थी। केवल डिप्लोमा कोर्स वाले ही मान्य थे।

यह भी पढ़ें: हिमाचल: चलती बाइक पर सांप ने डंसा, गिर पड़ा 36 वर्षीय शख्स- दुखद निधन

जिसके बाद बीटेक डिग्री वाले कोर्ट चले गए। इधर डिप्लोमा डिग्री वाले 123 जेई की विभाग ने भर्ती कर ली। इसी बीच बीटेक कोर्स वाले कोर्ट में केस जीत गए।

56 डिप्लोमा डिग्री वाले जेई मेरिट में नहीं आ सके:

कोर्ट के आदेशानुसार विभाग ने दुबारा से भर्ती प्रक्रिया शुरू की। जिसमें बीटेक वाले भी मान्य थे। इस प्रक्रिया में डिप्लोमा डिग्री से पूर्व में नियुक्त 123 जेई में से 23 तो पुनः क्वालीफाई कर गए। लेकिन 56 जेई मेरिट लिस्ट में नहीं आ पाए।

यह भी पढ़ें: हिमाचल: कोरोना से जान गंवाने वाले फ्रंट लाइन वर्करों, शिक्षकों-कर्मचारियों के परिजनों को 50 लाख

ऐसे में अब पीडब्ल्यूडी विभाग असमंजस में है कि इन जेई की सेवाओं को जारी रखा जाए या फिर उन्हें टर्मिनेट किया जाए।

सरकार के आदेश का इंतजार:

वहीं नए जेई की ज्वाइनिंग न होने के कारण लोक निर्माण विभाग का काम भी प्रभावित हो रहा है।

यह भी पढ़ें: हिमाचल में खुलेंगे स्कूल- CM जयराम ने दिए संकेत, जानें और क्या-क्या बोला

उधर, इंजीनियर-इन-चीफ लोक निर्माण विभाग ई. डीएस देहल ने कहा कि जेई सिविल के 123 पदों पर नई ज्वाइनिंग कराने के लिए सरकार से क्लेरिफिकेशन मांगी है। जिसके बाद जॉइनिंग कराई जाएगी।

Post a Comment

0 Comments