ज्योति मांगे इंसाफ: भाई ने नम आंखों से इकलौती बहन को दी मुखाग्नि, माता-पिता की एक ही मांग

Ticker

6/recent/ticker-posts

ज्योति मांगे इंसाफ: भाई ने नम आंखों से इकलौती बहन को दी मुखाग्नि, माता-पिता की एक ही मांग

मंडी: घरेलु हिंसा की शिकार हुई जोगिन्दर नगर की ज्योति का अंतिम संस्कार आज कर दिया गया। ज्योति के क्षत-विक्षत शव को मुखाग्नि उसके भाई ने हराबाग में दिया। इससे पहले फोरेंसिक टीम ने गहनता से बॉडी की जांच की थी।

पुलिस के समझाने से शांत हुए ग्रामीण:

अंतिम संस्कार के दौरान मौके पर पुलिस टीम भी मौके पर मुस्तैद रही। परिजनों सहित ग्रामीणों के भी आँखें नम थी। ग्रामीणों ने कहा था कि चिता को अग्नि ससुराल के आंगन में दी जाएगी। पुलिस को समझाने के बाद सभी शांत हुए।

यह भी पढ़ें: वीरभद्र सरकार के मंत्री के दाग तो धो देगी BJP, घोटाले से जुड़े अधिकारियों पर होगी कार्रवाई!

बता दें की ज्योति के मायका हारगुनैण पंचायत के गांव नकेहड़ में पड़ता है तथा उसकी शादी भराड़ू के गड़ूही गांव में शिव कुमार से हुई थी। इस केस में ज्योति के पति शिव कुमार पुलिस ने गिरफ्तार किया गया है।

छात्र भी कर रहे विरोध;

वहीं, सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद मामला काफी तूल पकड़ने लगा है। छात्र संगठन से जुड़े विद्यार्थियों ने भी इस मामले को लेकर पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाए है। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: हवा में लटक गई पिकअप, बचने के चक्कर में ड्राइवर नीचे खाई में गिरा और मर गया

छात्रों ने शहर में रैली निकालकर रोष जताया व पुलिस के खिलाफ नारेबाजी करते हुए शहर भर में जुलूस निकाला। पुलिस थाने के बाहर नारेबाजी कर घेराव करने की भी कोशिश की गई।

Post a Comment

0 Comments