हिमाचल: घर से निकाली बहू ने बुलाई पुलिस तो ससुराल वालों ने टीम पर ही बरसा दिए पत्थर, ASI चोटिल

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल: घर से निकाली बहू ने बुलाई पुलिस तो ससुराल वालों ने टीम पर ही बरसा दिए पत्थर, ASI चोटिल


मंडी।
हिमाचल प्रदेश के अलग-अलग जिलों से आए दिन ऐसे मामले सामने आ ही जाते हैं, जिन्हें जानने के बाद एक बार इस बात पर विचार करना पड़ ही जाता है कि क्या लोगों में कानून और पुलिस प्रशासन का डर बचा भी है या नहीं। इस कड़ी में ताजा मामला सूबे के मंडी जिले से रिपोर्ट किया गया है। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: लो ब्लड प्रेशर से पीड़ित महिला का इलाज के दौरान निधन, बाद में पाई गई कोरोना पॉजिटिव

जहां पर पहले तो ससुराल वालों ने अपनी बहू को घर से बाहर निकाल दिया। इसके बाद जब प्रताड़ित महिला ने अपनी मदद के लिए पुलिस बुलाई तो उद्दंड सुसुराल वालों ने पुलिस टीम पर ही पत्थरों की बारिश कर दी। पत्थरों से किए इस हमले में एएसआई रैंक के जांच अधिकारी घायल हुए हैं। 

वारदात को अंजाम देने के बाद फरार हो गए आरोपी 

यह मामला जिले के उपमंडल धर्मपुर के चनौता गांव से रिपोर्ट किया गया है। वहीं, इस वारदात के बाद पुलिस द्वारा आरोपियों के खिलाफ सरकारी कार्य में बाधा पहुंचाने और मारपीट करने का केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है। जबकि इस वारदात के बाद अतिरिक्त पुलिस बल के साथ जब पुलिस आरोपियों के घर पहुंची तो सभी फरार पाए गए। 

यह भी पढ़ें: जयराम सरकार ने 24 घंटे में पलटा फैसला: अधिकारियों और कर्मचारियों को मिलेगा एक सामान DA?

बतौर रिपोर्ट्स, आरोपियों के घर की बहू ने धर्मपुर पुलिस थाना में बुधवार रात फोन कर सूचना दी कि ससुराल पक्ष ने उसे  प्रताड़ित कर घर से बाहर निकाल दिया है। रात के अंधेरे में वह घर के बाहर है। महिला ने पुलिस ने सुरक्षा की गुहार लगाई। सूचना मिलने पर पुलिस दल रात करीब 12 बजे एएसआई रविंद्र कुमार की अगुवाई में मौके पर महिला के ससुराल पहुंच गए। 

अचानक हुए हमले में पुलिस को नहीं मिला संभलने का मौक़ा 

आरोप है कि जैसे ही पुलिस पीड़ित महिला के ससुराल पहुंची, अचानक  महिला के पति, सास व देवर ने पत्थरों से हमला कर दिया। अचानक हुए इस हमले से पुलिस को संभलने का भी मौका नहीं मिला। इस हमले में एएसआई रविंद्र कुमार घायल हो गए। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल: लो ब्लड प्रेशर से पीड़ित महिला का इलाज के दौरान निधन, बाद में पाई गई कोरोना पॉजिटिव

पुलिस दल ने किसी तरह वहां से निकलकर घायल अधिकारी को सिविल अस्पताल धर्मपुर पहुंचाया। जहां उन्हें प्राथमिक उपचार दिया गया। वहीं, जब आज सुबह पुलिस की टीम अतिरिक्त सुरक्षा बल के साथ मौके पर पहुंची तो सभी आरोपी फरार पाए गए। अब पुलिस द्वारा इस सम्बन्ध में मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी गई है। 

Post a Comment

0 Comments