हिमाचल में जनता के पैसों की बर्बादी: 32 लाख में बनाई ऐसी सड़क कि गाड़ी भी नहीं चढ़ पाई

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल में जनता के पैसों की बर्बादी: 32 लाख में बनाई ऐसी सड़क कि गाड़ी भी नहीं चढ़ पाई


शिमलाः
हिमाचल प्रदेश में की राजधानी शिमला में जनता के पैसों की बर्बादी करने का मामला सामने आया है. यहां स्थित संजौली में नगर निगम द्वारा 32 लाख रूपए खर्च कर ऐंबुलेंस रोड तैयार करवाया गया। लेकिन इस नव निर्मित मार्ग की चढ़ाई तीखी होने के कारण यहां से ऐंबुलेंस तो क्या कोई अन्य गाड़ी भी नहीं चढ़ पाई। 

रिटेनिंग वॉल देकर सड़क की री ग्रेडिंग करने में जुटा नगर निगम 

अब स्थानीय लोगों इस सड़क निर्माण को लेकर सवाल उठाए जाने के बाद नगर निगम रिटेनिंग वॉल देकर सड़क की री ग्रेडिंग करने में जुट गया है। ताकि इस मार्ग पर गाड़ियां चढ़ सकें। वहीं, इस मामले पर मेयर सत्या कौंडल ने बताया कि उन्होंने शहरी विकास विभाग से 32 लाख लेकर यह सड़क बनवाई थी। लेकिन सड़क ऐसी बनी कि गाडियां चढ़ ही नहीं पाई। 

यह भी पढ़ें: हिमाचल पर प्रकृति का कोप जारी: कही बादल फटा कहीं भूकंप आया- जानें पूरी डिटेल

उन्होंने आगे कहा कि अफसरों को देखना चाहिए था कि सड़क कैसी बन रही है। मेयर ने उन्हें बताया कि लोगों ने उनसे कहा कि सड़क की हालत सुधारी जाए। जिस पर अब 15 लाख से इसकी री ग्रेडिंग करवा रहे हैं। 

यह भी पढ़ें: हिमाचलः 4000 शिक्षकों की भर्ती प्रक्रिया का पहला चरण शुरू- जानें पूरी डीटेल

वहीं, इस सड़क के निर्माण कार्य के लिए ठेकेदार को दो फीट चौड़े डंगे लगाने को कहा गया था, लेकिन मौके पर ठेकेदार ने चार फीट चौड़े डंगे लगा दिए। जिस पर स्थानीय लोगों ने आपत्ति जताई और निगन के अधिकारियों को मौके पर बुलाया। जिस पर अधिकारियों ने कहा कि उन्होंने ऐसा करने को नहीं कहा है। ऐसे में अब अधिकारियों द्वारा ठेकेदार के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Post a Comment

0 Comments