अर्की बना बगावत का गढ़: कांग्रेस के बाद बीजेपी में भी सुलगी चिंगारी- पढ़ें पूरी खबर

Ticker

6/recent/ticker-posts

अर्की बना बगावत का गढ़: कांग्रेस के बाद बीजेपी में भी सुलगी चिंगारी- पढ़ें पूरी खबर


सोलन:
टिकट ना मिलने से नाराजगी का दौर कांग्रेस के बाद अब भाजपा में भी शुरू हो गया है। भाजपा के तरफ से उम्मीदवारों के नाम का आधिकारिक ऐलान से पहले अर्की से पूर्व विधायक गोविंद राम शर्मा ने कहा है कि रत्न सिंह पाल को टिकट देने पर वे पार्टी के लिए प्रचार नहीं करेंगे।

निर्दलीय लड़ेंगे चुनाव!

बता दें कि बुधवार शाम को सूत्रों के हवाले भाजपा के सभी उम्मीदवारों के नाम की खबर सामने आई। जिसमें अर्की सीट से रत्न सिंह पाल को प्रत्याशी बताया गया। जिसके बाद पूर्व विधायक गोविंद राम शर्मा की नाराजगी सामने आ गई।


गोविंद राम शर्मा ने स्पष्ट किया कि वह पार्टी के लिए चुनाव प्रचार ऐसी परिस्थिति में नहीं करेंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि वह निर्दलीय चुनाव लड़ सकते हैं लेकिन इसका निर्णय वह नहीं बल्कि उनके समर्थक करेंगे

ऐलान से पहले घमासान:

अर्की भाजपा के कई नेता गोविंद राम शर्मा के समर्थन में हैं। जिला परिषद सदस्य आशा परिहार व जिला परिषद सदस्य अमर सिंह ठाकुर सहित भाजपा के कई नेता उनका समर्थन कर रहे हैं। ये नेतागण रत्न सिंह पाल को टिकट देने का विरोध भी कर रहे हैं।


वीरवार को गोविंद राम शर्मा ने अपने समर्थकों की बैठक बुलाई है। जिसमें निर्णय लिया जाएगा कि वह निर्दलीय चुनावी मैदान में आएंगे या नहीं। साथ ही वीरवार को ही भाजपा के तरफ से उम्मीदवारों के नाम का आधिकारिक ऐलान भी होना है।

कांग्रेस में पाक रही है अलग खिचड़ी:

गौरतलब है कि इससे पहले अर्की कांग्रेस ब्लॉक समिति ने सामूहिक इस्तीफा दे दिया था। पूरा कैडर कांग्रेस प्रदेश सचिव राजेंद्र ठाकुर को टिकट नहीं देने से नाराज था। अर्की से कांग्रेस ने सुक्खू गुट के संजय अवस्थी को टिकट दिया है।

सामूहिक इस्तीफे के बाद कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने सतीश कश्यप को कांग्रेस ब्लॉक समिति का कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त किया था। वहीं, ब्लॉक कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष पद से त्याग पत्र देने वाले रूप सिंह ठाकुर ने बताया कि उनकी महापंचायत वीरवार को अर्की में होगी। 


इस महापंचायत में कांग्रेस विचारधारा के लोग ही शामिल होंगे, जो संजय अवस्थी के टिकट का विरोध कर रहे हैं। इस महापंचायत में ही अगली रणनीति तय की जाएगी। कयास लगाए जा रहे हैं कि कांग्रेस के बागी राजेंद्र ठाकुर भी निर्दलीय मैदान में उतर सकते हैं।

Post a Comment

0 Comments