बरागटा के मामले में BJP सख्त: कभी नहीं होगी पार्टी में वापसी, दम है तो पार्टी का नाम इस्तेमाल ना करें

Ticker

6/recent/ticker-posts

बरागटा के मामले में BJP सख्त: कभी नहीं होगी पार्टी में वापसी, दम है तो पार्टी का नाम इस्तेमाल ना करें


शिमला।
हिमाचल प्रदेश में जारी उपचुनाव की सरगर्मियों के बीच जुब्बल कोटखाई से पूर्व बीजेपी नेता चेतन बरागटा द्वारा की गई बगावात का मुद्दा कहीं से भी थमता हुआ नजर नहीं आ रहा है। चेतन को पार्टी से 6 साल के लिए निष्कासित किए जाने के बाद जुब्बल कोटखाई क्षेत्र से मानों इस्तीफों की बाढ़ सी आ गई हो। 

यह भी पढ़ें: उपचुनाव: सेना के नाम का दुरूपयोग नहीं कर रहे खुशाल ठाकुर, निर्वाचन आयोग ने दी क्लीन चिट

इस सब के बीच बीजेपी के प्रदेश प्रभारी अविनाश राय खन्ना ने स्पष्ट किया है कि पार्टी के आधिकारिक प्रत्याशी के विरोध या विरोधी को प्रत्यक्ष या परोक्ष रूप से मदद करने वालों को पार्टी बाहर का रास्ता दिखाएगी। यह भी एलान किया है कि पार्टी से जिस भी कार्यकर्ता का निष्कासन होगा, उसे दोबारा पार्टी में एंट्री नहीं मिलेगी।

पार्टी का हर कार्यकर्ता प्रत्याशी नीलम सरैइक के साथ

पार्टी पर धोखा देने के आरोप लगाने वाले चेतन बरागटा पर खन्ना ने जबरदस्त हमला बोला। कहा कि अगर वह इतने ही बड़े नेता हैं तो पार्टी के संसाधनों और नाम का इस्तेमाल करना बंद कर सीधे चुनाव मैदान में आएं। कहा कि पार्टी का हर कार्यकर्ता प्रत्याशी नीलम सरैइक के साथ है और उन्हें जिताने के लिए काम कर रहा है।

यह भी पढ़ें: हिमाचल: पानी की टंकी का वॉल्व खोलने छत पर गया ठेकेदार तीसरी मंजिल से गिरा- दुखद निधन

बता दें, जुब्बल-कोटखाई में अभी भी पार्टी के कई सोशल मीडिया प्लेटफार्मों से चेतन बरागटा का प्रचार किया जा रहा है। यह सभी सोशल मीडिया प्लेटफार्म पार्टी के हैं, लेकिन पार्टी के पदाधिकारी ही बागी बनकर उनका पार्टी के खिलाफ उपयोग कर रहे हैं।

Post a Comment

0 Comments