हिमाचल कांग्रेस के स्टार प्रचारक बने कन्हैया कुमार: सिद्धू को भी जिम्मा- बाली लिस्ट से बाहर

Ticker

6/recent/ticker-posts

हिमाचल कांग्रेस के स्टार प्रचारक बने कन्हैया कुमार: सिद्धू को भी जिम्मा- बाली लिस्ट से बाहर


शिमला:
हिमाचल प्रदेश कांग्रेस ने अपने स्टार प्रचारकों की सूची जारी कर दी है। प्रदेश कांग्रेस के दिग्गज नेताओं का नाम सूची से बाहर कर अन्य प्रदश के नेताओं को स्टार प्रचार बनाया गया है।

ये होंगे स्टार प्रचारक:

बता दें कि उपचुनाव में चुनाव प्रचार के लिए कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू, पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी, अभिनेता और कांग्रेस नेता राज बब्बर, वामपंथ छोड़ कांग्रेस ज्वाइन करने वाले कन्हैया कुमार कांग्रेस के स्टार प्रचारक होंगे। कांग्रेस हाईकमान ने 20 स्टार प्रचारकों के नामों की सूची जारी की है।

यह भी पढ़ें: हिमाचल: तीन दिन से लापता महिला घर लौटी, बताया- ट्रक चालक ने बहला कर साथ बिठाया फिर इज्जत..

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा, आनंद शर्मा, राजीव शुक्ला, आशा कुमारी, धनीराम शांडिल, कांग्रेस नेता सचिन पायलट, गुरकीरत सिंह कोटली, संजय दत, कौल सिंह ठाकुर, सुखविंदर सिंह सुक्खू, कुलदीप सिंह राठौर, मुकेश अग्निहोत्री, राजेंद्र राणा, मेजर जनरल सेवानिवृत्त धर्मवीर सिंह राणा और शिमला ग्रामीण से कांग्रेस विधायक विक्रमादित्य सिंह का नाम कांग्रेस के स्टार प्रचारकों की सूची में शामिल किया गया है

अपना बूथ भी हार गए थे कन्हैया:

कन्हैया कुमार का नाम शामिल करना भी विवाद का कारण बन सकता है। कन्हैया कुमार देशद्रोह के आरोप झेल रहे हैं और वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में उन्होंने बिहार के बेगुसराय सीट से चुनाव लड़ा था। 

कन्हैया चार लाख के करीब वोट से भाजपा के गिरिराज सिंह से चुनाव हारे थे। साथ ही उनके अपने गृह बूथ पर भी उन्हें बहुमत हासिल नहीं हुआ था।

जी एस बाली का नाम बाहर:

साथ ही कांग्रेस पार्टी ने सूची से कई दिग्गज नेताओं का नाम बाहर कर दिया है। इनमें हिमाचल कांग्रेस की सबसे वरिष्ठ नेता जी एस बाली,आनंद शर्मा का नाम स्टार प्रचारक सूची से बाहर कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें: जुब्बल-कोटखाई में बवाल: BJP कार्यकर्ताओं ने लगाए सुरेश भारद्वाज मुर्दाबाद के नारे, पुलिस बल तैनात

जीएस बाली का नाम बहार करने के पीछे का कारण बताया जा रहा है कि वह खुद को मुख्यमंत्री पद के प्रबल दावेदार बता रहे थे। मुख्यमंत्री पद की रेस से बाहर करवाने तथा यह एहसास दिलवाने के लिए उन्हें चुनावी प्रचार समिति से बाहर का रास्ता दिखाया गया है

Post a Comment

0 Comments