टिकट मिलते ही प्रतिभा सिंह ने भरी हुंकार: मंडी से CM होने पर बड़ी चुनौती, जनभावना हमारे साथ

Ticker

6/recent/ticker-posts

टिकट मिलते ही प्रतिभा सिंह ने भरी हुंकार: मंडी से CM होने पर बड़ी चुनौती, जनभावना हमारे साथ


शिमला/मंडी।
हिमाचल प्रदेश में चार सीटों पर होने वाले उपचुनाव के लिए सूबे की प्रमुख विपक्षी पार्टी कांग्रेस द्वारा बीते कल ही उम्मीदवारों के नाम का ऐलान कर दिया गया। इसी कड़ी में इन चुनावों में सबसे हॉट सीट मानी जारी मंडी लोकसभा सीट से कांग्रेस हिमाचल के दिवंगत पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह की पत्नी प्रतिभा सिंह को मैदान में उतारा है। वहीं, टिकट मिलने के बाद प्रतिभा सिंह का पहला बयान मीडिया के सामने आया है। 

जीत दर्ज कर सीट को कांग्रेस पार्टी की झोली में डाला जाएगा

अपने इस बयान में जहां प्रतिभा सिंह ने बीजेपी को चुनौती माना है। वहीं, मंडी से कांग्रेस को जीत दिलाने का दम भी भरा है। बकौल प्रतिभा सिंह, 'मंडी से पहली बार प्रदेश में मुख्यमंत्री बना है। ऐसे में उपचुनाव में चुनौती कड़ी होगी। देश और प्रदेश में भाजपा की सरकारें भी सत्तासीन हैं। इसके बावजूद जन सहयोग से मंडी से जीत दर्ज कर सीट को कांग्रेस पार्टी की झोली में डाला जाएगा।'

यह भी पढ़ें: हिमाचल: 53 वर्षीय शख्स ने शराब और जहर का साथ किया सेवन, होटल में पड़ा मिला

कांग्रेस प्रत्याशी प्रतिभा सिंह ने आगे कहा कि मां भीमाकाली का आशीर्वाद लेकर सात अक्तूबर से चुनाव प्रचार शुरू किया जाएगा। आठ अक्तूबर को नामांकन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि वीरभद्र सिंह के विकास कार्यों के बलबूते भाजपा सरकार का सामना किया जाएगा। आज जनभावना हमारे साथ हैं।

मैं अर्की जाना चाहती थीं लेकिन अब नहीं जा सकूंगी

प्रतिभा सिंह ने कहा कि वीरभद्र ने अपार विकास किया है। उन भावनाओं के चलते ही चुनाव लड़ने का फैसला लिया है। उन्होंने कहा कि अर्की वीरभद्र सिंह की सीट रही है। मंडी बहुत बड़ा क्षेत्र है। चुनाव प्रचार के लिए समय भी कम मिला है। मैं अर्की जाना चाहती थीं लेकिन समय के अभाव के चलते अब नहीं जा सकूंगी। 

यह भी पढ़ें: वोट मांगते विक्रमादित्य को जनता ने दिखाया आइना: कहा- श्रद्धांजलि के नाम पर वोट तुच्छ राजनीति..

बकौल प्रतिभा सिंह, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष, नेता विपक्ष सहित सभी बड़े नेता अर्की जाएंगे। पार्टी प्रत्याशी को जीत दिलाने के लिए पूरा जोर लगाया जाएगा। उन्होंने कहा कि पार्टी टिकट की अपेक्षा कई को होती है लेकिन टिकट एक को मिलता है। क्षणिक रोष रहता है, कुछ समय बाद सब ठीक हो जाता है।

Post a Comment

0 Comments